Bihar Weather Alert : बिहार के 14 जिलों में आज भी भीषण गर्मी का अलर्ट.

इस हफ्ते की शुरुआत ने बिहार में गर्मी के कहर को और भी बढ़ा दिया है। दो दिनों तक लोगों को राहत की कोई उम्मीद नहीं है। शुक्रवार से ही कुछ राहत की उम्मीद जताई जा रही है जब तापमान में थोड़ी गिरावट आ सकती है।

मौसम विभाग ने पटना सहित 14 जिलों में भीषण गर्मी का रेड और ऑरेंज अलर्ट जारी किया है। ऐसे हालात में लोगों को सतर्क और सावधान रहने की सलाह दी गई है। उत्तर-पश्चिम, उत्तर-मध्य और दक्षिणी भागों के कुछ हिस्सों में उमस भरी गर्मी की भी संभावना है, जिससे लोगों की परेशानी और बढ़ सकती है।

मानव जीवन पर प्रभाव

गुरुवार तक लोगों को भीषण गर्मी से राहत मिलने की कोई उम्मीद नहीं है। हालांकि, 15 जून से गरज और चमक के साथ हल्की बारिश की संभावना है, जो थोड़ी राहत दे सकती है। पटना सहित राजधानी में राजस्थान के मरुस्थल से आने वाली गर्म पछुआ हवाएं लोगों को बेहाल कर रही हैं। दक्षिण बिहार के लोगों को इस कारण भारी गर्मी का सामना करना पड़ रहा है, जबकि उत्तर बिहार के लोग आंशिक तौर पर राहत महसूस कर रहे हैं।

तापमान का कहर

मंगलवार को पटना सहित 15 शहर भीषण गर्मी और लू की चपेट में रहे। प्रदेश का सबसे गर्म जिला बक्सर रहा, जहां तापमान 46.5 डिग्री सेल्सियस तक पहुँच गया। पटना का तापमान 42.7, गया का 44.5, छपरा का 42.5, डेहरी का 45.0, शेखपुरा का 43.5, गोपालगंज का 43.0, भोजपुर का 45.3, वैशाली का 43.3, औरंगाबाद का 45.1, राजगीर का 44.1, जीरादेई का 44.0, अरवल का 45.0 और बिक्रमगंज का 44.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

   

सावधानी और सतर्कता

इस भयंकर गर्मी के दौर में बक्सर, भोजपुर, औरंगाबाद, नवादा, नालंदा, सीवान और अरवल में रेड अलर्ट जारी किया गया है। वहीं पटना, गया, छपरा, रोहतास, शेखपुरा, गोपालगंज और वैशाली में ऑरेंज अलर्ट जारी किया गया है।

इंसानियत की जंग

गर्मी का यह कहर सिर्फ आंकड़ों तक सीमित नहीं है, यह हर व्यक्ति के जीवन को प्रभावित कर रहा है। लोगों को यह समझना होगा कि ऐसी स्थिति में एक-दूसरे की मदद करना और इंसानियत के नाते एक-दूसरे का ध्यान रखना कितना जरूरी है। हर व्यक्ति को अपने और अपने परिवार की सुरक्षा का ध्यान रखना चाहिए और घर के बुजुर्गों और बच्चों का खास ख्याल रखना चाहिए।

इस गर्मी के मौसम में पानी का सेवन अधिक करें, धूप में बाहर जाने से बचें और यदि आवश्यक हो तो पूरी सुरक्षा के साथ ही बाहर निकलें। अपनी सेहत का ध्यान रखें और दूसरों की मदद के लिए हमेशा तैयार रहें। यही इंसानियत की असली पहचान है।

Leave a Comment