Bihar Milk Producing Animals : बिहार में दूध देने वाले पशुओं का होगा बीमा.

बिहार सरकार ने दुधारू पशुओं (गाय और भैंस) के लिए एक नई बीमा योजना की घोषणा की है। वित्तीय वर्ष 2024-25 में लगभग 11,100 दुधारू पशुओं को इस योजना के तहत बीमित करने का लक्ष्य रखा गया है। इस योजना की स्वीकृति इस माह के अंत तक मिल जाने की संभावना है, और जुलाई से पशुपालक इसके लिए आवेदन कर सकेंगे।

योजना के प्रीमियम और लाभ

पशुपालकों को प्रीमियम का केवल 25% यानी 525 रुपए प्रति पशु देना होगा, बाकी 75% यानी 1575 रुपए की राशि सरकार वहन करेगी। यह योजना पशुपालकों को एक बड़ी राहत प्रदान करेगी, खासकर अगर उनके पशु किसी बीमारी, दुर्घटना या आपदा के कारण मर जाते हैं, तो उन्हें 60,000 रुपए की राशि मिलेगी। प्रत्येक पशुपालक अधिकतम चार पशुओं का बीमा करा सकते हैं।

प्राथमिकता और शर्तें

इस योजना में दुग्ध उत्पादक सहयोग समिति के सदस्यों के पशुओं को प्राथमिकता दी जाएगी। योजना के अंतर्गत केवल स्वस्थ पशुओं का ही बीमा किया जाएगा, जिसके लिए पशु चिकित्सक द्वारा जारी स्वास्थ्य प्रमाण पत्र अनिवार्य होगा।

पिछली योजना की समीक्षा

पिछले वित्तीय वर्ष में इसी तरह की योजना शुरू की गई थी, जिसमें देरी और पशुपालकों के बीच जानकारी की कमी के कारण बहुत कम पशुओं का बीमा हो पाया था। इस बार सरकार ने योजना के समय पर शुरू होने और इसके प्रचार-प्रसार के माध्यम से अधिक संख्या में पशुपालकों को जोड़ने की योजना बनाई है।

   

यह नई बीमा योजना बिहार में पशुपालन क्षेत्र को मजबूती प्रदान करेगी और पशुपालकों को उनके पशुओं के जीवन के जोखिमों से बचाने में सहायता करेगी।

Leave a Comment