Pappu Yadav: पप्पू यादव ने बदला पासा, रुपौली उप चुनाव में इस कैंडिडेट को दिया समर्थन.

लोकसभा चुनाव में लालू प्रसाद यादव और तेजस्वी यादव के खिलाफ मोर्चा खोलने वाले पूर्णिया सांसद पप्पू यादव ने अंततः हार मान ली और पूरी तरह से समर्पण कर दिया। पूर्णिया से लोकसभा का टिकट न मिलने पर, जो पप्पू यादव कल तक लालू-तेजस्वी को कड़ी आलोचना कर रहे थे, आज वही बीमा भारती के लिए जनता से वोट मांग रहे हैं और माफी भी मांगनी पड़ी।

पप्पू यादव का कांग्रेस में विलय
लोकसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस का टिकट पाने के लिए पप्पू यादव ने अपनी जन अधिकार पार्टी का विलय कांग्रेस में कर दिया और खुद कांग्रेस में शामिल हो गए। लेकिन एन मौके पर लालू प्रसाद यादव ने पप्पू यादव को धोखा दे दिया और बीमा भारती को पूर्णिया से टिकट दे दिया।

निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में जीत
लालू की इस वादाखिलाफी से आहत पप्पू यादव ने निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में पूर्णिया से चुनाव लड़ा और लालू की उम्मीदवार बीमा भारती को हराकर जीत हासिल की। चुनाव के दौरान पप्पू यादव ने तेजस्वी यादव पर कड़ी आलोचना की और बिहार में कांग्रेस की दुर्दशा के लिए लालू को जिम्मेदार बताया।

उपचुनाव में बदलाव
रूपौली विधानसभा सीट पर हो रहे उपचुनाव में, जो बीमा भारती के इस्तीफा देने से खाली हुई थी, लालू प्रसाद ने फिर से बीमा भारती को उम्मीदवार बनाया। पप्पू यादव ने पहले आरजेडी के इस फैसले पर सवाल उठाए और किसी निर्दलीय प्रत्याशी को समर्थन देने के संकेत दिए। लेकिन अचानक पप्पू यादव ने अपना रुख बदल लिया।

   

समर्थन का ऐलान
पूर्णिया सांसद पप्पू यादव ने प्रेस को संबोधित करते हुए बीमा भारती के लिए समर्थन का एलान किया और रूपौली की जनता से उनके लिए वोट मांगे। पप्पू यादव ने हाथ जोड़कर माफी मांगी और कहा कि जो लोग एनडीए या निर्दलीय उम्मीदवार के साथ होंगे, वे पप्पू यादव के साथ नहीं होंगे।

इस तरह, पप्पू यादव ने एक बार फिर राजनीति में अपने पुराने विरोधियों के सामने झुककर अपनी स्थिति बदल ली है।

Leave a Comment