e-Shikshakosh Bihar : बिहार के सभी स्कूलों में अब एप से बनेगी शिक्षकों और छात्रों की हाजिरी.

बिहार के सभी स्कूलों में अब शिक्षकों, प्रधानाध्यापकों और बच्चों की उपस्थिति ई-शिक्षाकोष मोबाइल एप के माध्यम से ली जाएगी। यह नई व्यवस्था शिक्षा विभाग द्वारा लागू की जा रही है, जिसमें शिक्षक और प्रधानाध्यापक अपनी उपस्थिति एप पर दर्ज करेंगे।

शिक्षक और प्रधानाध्यापक की उपस्थिति

शिक्षक और प्रधानाध्यापक अब स्कूल आते और जाते समय अपनी उपस्थिति ई-शिक्षाकोष एप पर दर्ज करेंगे। इसके लिए उन्हें गूगल प्ले स्टोर से एप को डाउनलोड करना होगा और अपनी शिक्षक आईडी से लॉग-इन करना होगा। जिन शिक्षकों के पास शिक्षक आईडी नहीं है या वे भूल गए हैं, वे अपने प्रधानाध्यापक से संपर्क कर सकते हैं।

बच्चों की उपस्थिति

दूसरे चरण में बच्चों की उपस्थिति भी इस एप के माध्यम से दर्ज की जाएगी। इसके लिए सभी सरकारी स्कूलों में टैबलेट कंप्यूटर उपलब्ध कराए जाएंगे। शिक्षा विभाग के अपर मुख्य सचिव डॉ. एस सिद्धार्थ ने इस संबंध में सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को मंगलवार को एक पत्र जारी किया है।

पुरानी व्यवस्था का अंत

पत्र में यह भी बताया गया है कि प्रतिदिन वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से शिक्षकों और छात्रों की उपस्थिति के आंकड़े प्राप्त करने की व्यवस्था को बंद कर दिया गया है। अब नई व्यवस्था के तहत ई-शिक्षाकोष एप का उपयोग किया जाएगा।

   

एप का उपयोग

ई-शिक्षाकोष एप में लॉग-इन करने के बाद, डैसबोर्ड पर अंकित ‘मार्क अटेंडेंस’ बटन को क्लिक करना होगा। ध्यान रहे कि यह एप स्कूल के 500 मीटर के दायरे में ही काम करेगा, जिससे यह सुनिश्चित किया जा सके कि शिक्षक और प्रधानाध्यापक वास्तव में स्कूल परिसर में मौजूद हैं।

नई व्यवस्था की तैयारी

इस नई व्यवस्था को तुरंत लागू करने के लिए सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं। यह कदम राज्य में शिक्षा की गुणवत्ता और उपस्थिति को बढ़ाने के लिए एक महत्वपूर्ण प्रयास है। शिक्षकों और प्रधानाध्यापकों को इस नई तकनीकी पहल को अपनाने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है, ताकि शिक्षा प्रणाली में पारदर्शिता और दक्षता बढ़ाई जा सके।

Leave a Comment