समस्तीपुर में मनाया गया ABVP का 76वां स्थापना दिवस.

 भारतीय विद्यार्थी परिषद (अभाविप) का 76वां स्थापना दिवस मंगलवार को समस्तीपुर में हर्षोल्लास के साथ मनाया गया। इस अवसर पर प्रदेश उपाध्यक्ष डॉक्टर स्मिता झा ने विभाग कार्यालय पर ध्वजारोहण किया। कार्यक्रम की शुरुआत राम निरीक्षण आत्माराम महाविद्यालय में ‘अभाविप के 76 वर्षों की ध्येय यात्रा’ पर गौरव व्याख्यान से हुई, जिसमें विद्यार्थी परिषद की ऐतिहासिक यात्रा को रेखांकित किया गया।

राष्ट्रीय कला मंच की जिला संयोजक कोमल कुमारी ने सभा को संबोधित करते हुए कहा कि देश के महाविद्यालय और विश्वविद्यालय परिसरों को केंद्र बनाकर गतिविधियों की शुरुआत की गई थी ताकि देश को समृद्ध और संस्कारिक दिशा में अग्रसर किया जा सके। अभाविप का विधिवत पंजीकरण 9 जुलाई 1949 को हुआ, जिसे आज पूरा विश्व जानता है।

विभाग संयोजक अनुपम कुमार झा ने कहा कि स्वतंत्रता प्राप्ति के साथ देश के सर्वांगीण विकास की चुनौती भी सामने आई। ऐसे समय में अभाविप ने भारत की प्राचीन सभ्यता और संस्कृति से प्रेरित होकर देश को एक शक्तिशाली और स्वाभिमानी राष्ट्र के रूप में पुनर्निमित करने का संकल्प लिया। अभाविप ने राष्ट्रीय पुनर्निर्माण के व्यापक संदर्भ में कार्य करने का लक्ष्य सामने रखा और शिक्षा, परिवार, और समाज जीवन के सभी क्षेत्रों में सक्रिय हुआ।

उन्होंने आगे कहा कि विद्यार्थी परिषद ने सन 1971 के राष्ट्रीय अधिवेशन में स्पष्ट किया कि छात्र केवल कल का ही नहीं, बल्कि आज का भी नागरिक है और वह देश का जिम्मेदार घटक है।

   

अभाविप ने छात्रों की शक्ति को उपद्रवी नहीं बल्कि राष्ट्रशक्ति मानते हुए उन्हें सम्मान देने की बात कही। परिषद द्वारा छात्रों की विविध प्रतिभाओं को प्रोत्साहित करने के लिए खेलकूद प्रतियोगिताएं, साहित्य और नाट्य स्पर्धाएं, सम्मेलन, प्रतिभा संगम, कैरियर मार्गदर्शन, और व्यक्तित्व विकास शिविर जैसे कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे हैं।

राम निरीक्षण आत्माराम महाविद्यालय के अध्यक्ष विक्की चौधरी ने सभी छात्र-छात्राओं को स्थापना दिवस की शुभकामनाएं दी और धन्यवाद ज्ञापन किया। इस अवसर पर जिला सोशल मीडिया संयोजक निक्कू आर्या, सुधांशु चौधरी, प्रिंस चौधरी, अनुराग कुमार, मनीष चौधरी, गौरव सिंह, विनीत कुमार, चंदन यादव, अमन कुमार, विकास कुमार, अभिषेक कुमार, और प्रणव कश्यप सहित कई अन्य गणमान्य लोग उपस्थित थे।

Leave a Comment