Sadar Hospital : सदर अस्पताल में ऑपरेशन के दौरान महिला के पेट में बैंडेज छोड़ा.

नालंदा सदर अस्पताल में ऑपरेशन के दौरान महिला के पेट में बैंडेज छोड़ा एक महिला के ऑपरेशन के दौरान टेट्रा (बैंडेज) का मामला सामने आया है। महिला के पति ने मंगलवार को इस मामले की शिकायत डीएम के जनता दरबार में की। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए डीएम शशांक शुभंकर ने सिविल सर्जन डॉ. श्यामा राय और सदर अस्पताल के उपाधीक्षक अशोक कुमार को जांच के आदेश दिए हैं।

डीएम ने तीन दिनों के अंदर जांच रिपोर्ट की मांग की है। उन्होंने यह भी कहा है कि दोषी को बख्शा नहीं जाएगा। पटना के सकसोहरा थाना क्षेत्र के अंदौली गांव निवासी रवींद्र पासवान ने डीएम को आवेदन करके बताया कि उनकी पत्नी बेबी देवी ने अपने मायके सरमेरा-नालंदा के धनावां गांव में रहते हुए 25 नवंबर 2023 को रात में प्रसव पीड़ा के बाद सरमेरा अस्पताल में भर्ती कराई गई थी।

अगले दिन उसे सदर अस्पताल रेफर कर दिया गया था। वहां दोपहर में महिला डॉक्टर ने ऑपरेशन किया था, जिसके बाद उसकी बेटी का जन्म हुआ था। करीब डेढ़ महीने बाद से बेबी देवी ने पेट दर्द की शिकायत की। स्थानीय चिकित्सकों ने उसका इलाज किया, लेकिन तकलीफ का समाधान नहीं हुआ।

11 मई 2024 को जब पटना में एक विशेषज्ञ डॉक्टर से दिखाया गया तो पेट में टेट्रा होने का पता चला। इसके बाद उसे ऑपरेशन करके टेट्रा निकाला गया। इस उपचार में लगभग चार से पांच लाख रुपये खर्च हुए हैं। अभी उसे एक और ऑपरेशन करवाने की सलाह दी गई है।

   

Leave a Comment