Darbhanga News: दरभंगा में फर्जी तरीके से CTET परीक्षा में 12 ‘मुन्ना भाई’ गिरफ्तार.

बिहार के दरभंगा में CTET परीक्षा के दौरान बड़ा फर्जीवाड़ा सामने आया है, जिसमें 12 नकली परीक्षार्थियों को पकड़ा गया है। ये सभी असली उम्मीदवारों की जगह परीक्षा देने आए थे। बायोमेट्रिक वेरिफिकेशन के दौरान इनके अंगूठे के निशान मेल नहीं खाने पर यह खुलासा हुआ। पुलिस ने सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

रविवार को आयोजित शिक्षक पात्रता परीक्षा (CTET) के दौरान दरभंगा के विभिन्न परीक्षा केंद्रों पर बायोमेट्रिक वेरिफिकेशन हो रहा था, जब कुछ परीक्षार्थियों के अंगूठे के निशान मेल नहीं खाए। जांच में पता चला कि ये सभी फर्जी परीक्षार्थी थे।

पुलिस ने बताया कि गिरफ्तार किए गए नकली परीक्षार्थियों में से ज्यादातर मधुबनी जिले के निवासी हैं, जिन्होंने असली उम्मीदवारों से मोटी रकम लेकर उनकी जगह परीक्षा दी। कुछ सौदे लाख रुपये तक के थे, जबकि कई मामलों में 50 हजार रुपये वसूले गए थे। पुलिस मुख्य आरोपी की तलाश कर रही है, जो इन नकली परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र तक पहुंचाता था। इस घटना ने शिक्षा विभाग के सामने परीक्षाओं में पारदर्शिता बनाए रखने की चुनौती फिर खड़ी कर दी है।

दरभंगा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (SSP) जगुनाथ रेड्डी ने बताया कि CTET परीक्षा के दौरान अलग-अलग केंद्रों से 12 फर्जी परीक्षार्थी गिरफ्तार किए गए हैं। उन्होंने बताया कि बहादुरपुर थाना क्षेत्र के नोट्रेडम इंटरनेशनल स्कूल, भैरोपट्टी परीक्षा केंद्र से मुकेश कुमार को गिरफ्तार किया गया। मुकेश, दाउदनगर जिला औरंगाबाद का रहने वाला है और पटना के महेंद्रू के सोनू राजभर की जगह परीक्षा दे रहा था। बायोमेट्रिक जांच के दौरान वह पकड़ा गया।

   

सदर थाना क्षेत्र के डीएवी पब्लिक स्कूल परीक्षा केंद्र से गुरु शरण यादव और सोनू कुमार नामक दो फर्जी परीक्षार्थी पकड़े गए। ये दोनों मधुबनी जिले के रहने वाले हैं। लहेरियासराय थाना क्षेत्र के जिला स्कूल परीक्षा केंद्र से धर्मेंद्र कुमार और विमल कुमार गिरफ्तार हुए। धर्मेंद्र और विमल दोनों भी मधुबनी जिले के निवासी हैं।

एंजेल स्कूल परीक्षा केंद्र से राजा कुमार और सुनीता कुमारी नामक दो नकली परीक्षार्थियों को गिरफ्तार किया गया। राजा मधुबनी का और सुनीता सारण जिले की निवासी है। डॉन बॉस्को स्कूल परीक्षा केंद्र से नीतू कुमारी, ईश्वर कुमार, शशिकांत भारती, श्रवण कुमार मंडल और मनोज कुमार नामक पांच फर्जी परीक्षार्थी पकड़े गए। ये सभी विभिन्न जिलों के निवासी हैं। सभी गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

Leave a Comment