Bihar News: पटना-आरा-सासाराम फोरलेन जल्दी बनेगा, NHAI से टेंडर निकला.

बिहार में अगले दो महीने में पटना-आरा-सासाराम का निर्माण कार्य शुरू होने जा रहा है। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) ने इस परियोजना के दो पैकेज का टेंडर जारी कर दिया है। यह टेंडर बरसात के दौरान निबटाया जाएगा और इसके बाद निर्माण कार्य की शुरुआत होगी। इस परियोजना के पूरा होने में लगभग ढाई साल का समय लगेगा, जिससे पटना से शाहाबाद और उत्तर प्रदेश, दिल्ली की यात्रा आसान हो जाएगी।

उपमुख्यमंत्री और पथ निर्माण मंत्री विजय कुमार सिन्हा ने बताया कि एनएच 119A पर पटना-आरा-सासाराम चार लेन पथ के निर्माण हेतु निविदा जारी की गई है। गड़हनी-पातर और सदीसोपुर-असनी खण्ड के लिए निविदा आमंत्रित की गई है। इस परियोजना की अनुमानित लागत 1397.84 करोड़ रुपये है और इसकी कुल लंबाई 46.40 किलोमीटर है। निविदा प्राप्त करने की अंतिम तिथि सात अगस्त है।

सूत्रों के अनुसार, पटना के कन्हौली से करीब 3 किलोमीटर दूर स्थित सदीसोपुर के पास एनएच-131जी से सड़क का निर्माण होगा। पटना के घोड़ाटाप के पास से दक्षिण की ओर सोन नदी पर पुल का निर्माण किया जाएगा। यह पुल सोन नदी के पश्चिम से आरा के असनी होते हुए गड़हनी में सासाराम के आगे सुअरा होते हुए एनएच-19 से जुड़ेगा, जो वाराणसी जाने वाली सड़क है।

इस परियोजना के पूरा होने पर पटना, अरवल, भोजपुर, रोहतास और सासाराम जिलों की सड़कों का बेहतर कनेक्शन मिलेगा। खासकर नौबतपुर, अरवल, सहार, नोखा हसन बाजार, पीरो और संझौली के लोगों को काफी लाभ होगा। पटना से भोजपुर, अरवल, रोहतास और सासाराम होते हुए वाराणसी की यात्रा में आसानी होगी।

   

पटना-आरा-सासाराम एनएच-119 के निर्माण के लिए सोन नदी पर फोरलेन पुल का निर्माण होगा, जो आरा शहर के बाहर से होकर गुजरेगा। भोजपुर जिले के दक्षिण हिस्से के लोग बिना आरा शहर में प्रवेश किए पटना जा सकेंगे। सासाराम से पटना की यात्रा में भी समय की बचत होगी। फिलहाल, पटना से सासाराम पहुंचने में लगभग 4 से 5 घंटे लगते हैं, लेकिन पुल और सड़क बनने के बाद यह समय घटकर 2 से 3 घंटे हो जाएगा।

Leave a Comment