Samastipur News: समस्तीपुर में शिक्षकों के मानसिक स्वास्थ्य के लिए “हौसला” कार्यशाला आयोजित.

समाहरणालय सभा कक्ष, समस्तीपुर में जिलाधिकारी के तत्वावधान में क्षमतालय फाउंडेशन द्वारा “हौसला” नामक एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम की अध्यक्षता जिला कार्यक्रम पदाधिकारी मानवेन्द्र कुमार राय ने की। उन्होंने बताया कि शिक्षा विभाग समस्तीपुर और क्षमतालय फाउंडेशन के संयुक्त प्रयास से आयोजित इस कार्यक्रम में शिक्षकों के मानसिक स्वास्थ्य पर ध्यान केंद्रित किया गया है।

कार्यक्रम में यह सामने आया कि शैक्षिक और गैर-शैक्षिक कार्यों के कारण शिक्षकों में तनाव की शिकायतें आम हो गई हैं, जिससे बच्चों की पढ़ाई पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है। “हौसला” कार्यक्रम का उद्देश्य शिक्षकों के स्वास्थ्य को सुदृढ़ करना है। यह 21 दिवसीय कार्यक्रम ऑडियो आधारित है और विशेषकर शिक्षकों तथा शिक्षाविदों के मानसिक और भावनात्मक स्वास्थ्य को बेहतर बनाने के लिए विभिन्न रणनीतियों और अभ्यासों का सहयोग करता है।

इस कार्यक्रम के माध्यम से शिक्षक अपने दैनिक जीवन में उत्पन्न तनाव और दबाव को संतुलित कर पाएंगे। कार्यक्रम के दौरान उन्हें अपने स्वास्थ्य के लिए नई तकनीकों और अभ्यासों की पहचान और खोज करने का अवसर मिलेगा। इसमें रेसिलिएंस, अंतर्निर्भरता और भावनात्मक संज्ञान के अभ्यास शामिल हैं, जिससे वे अपने व्यक्तिगत और व्यावसायिक जीवन में सुधार कर सकें और पारस्परिक संबंधों को मजबूत बना सकें।

इस कार्यशाला में जिले के विभिन्न प्रखंडों से आए 100 शिक्षकों को प्रशिक्षित किया गया। क्षमतालय फाउंडेशन से पूजा सिंह और अभिषेक कुमार ने भी कार्यक्रम में भाग लिया। यह कार्यशाला शिक्षकों के मानसिक स्वास्थ्य को बेहतर बनाने और उनकी कार्य क्षमता को बढ़ाने के लिए एक महत्वपूर्ण कदम है।

   

Leave a Comment