Bihar : श्रेया के हत्यारों को फास्ट ट्रैक कोर्ट से सजा दिलाने की मांग.

औरंगाबाद के नवीनगर में बिहार की बेटी श्रेया का अपहरण कर सामूहिक गैंगरेप करने के बाद तेजाब से जलाया गया और फिर नवीनगर इंद्रपुरी के डैम में फेंक दिया गया। इस भयानक घटना ने पूरे जिले को हिला कर रख दिया है, लेकिन जिला प्रशासन, नेता और मीडिया इस मामले पर चुप्पी साधे हुए हैं।

सरकार से निष्पक्ष जांच और फास्ट ट्रैक कोर्ट से सजा की मांग

इस गंभीर घटना पर सरकार, बिहार पुलिस और नवीनगर प्रशासन से शीघ्र जांच और दोषियों को फास्ट ट्रैक कोर्ट से सजा दिलाने की मांग की जा रही है। इस मांग को लेकर समस्तीपुर में समाजसेवी दीपक सिंह के नेतृत्व में कैंडल मार्च का आयोजन किया गया। करणी सेना के जिलाध्यक्ष अविनाश सिंह चन्देल ने निष्पक्ष जांच की मांग करते हुए कहा कि दोषियों को फास्ट ट्रैक कोर्ट से फांसी की सजा मिलनी चाहिए और न्याय मिलने तक संघर्ष जारी रहेगा।

   

मानवता को शर्मसार करने वाली घटना पर लोगों का आक्रोश

मनीष यादव ने इस घटना को मानवता को शर्मसार करने वाला बताते हुए निष्पक्ष जांच की मांग की। मौके पर अविनाश सिंह चन्देल, जेके यादव, प्रवीण सिंह, दीपक सिंह, निलेश सिंह, अरविंद यादव, कृष्ण, आशीष, गौरव, विवेक सिंह, राकेश, रौशन सिंह, प्रिंस सिंह आदि उपस्थित थे।

इस घटना ने पूरे राज्य में आक्रोश का माहौल पैदा कर दिया है, और लोग दोषियों को जल्द से जल्द सजा दिलाने की मांग कर रहे हैं।

कैंडल मार्च में उमड़ी भीड़

कैंडल मार्च में शामिल लोगों ने श्रेया के प्रति संवेदना प्रकट की और न्याय की गुहार लगाई। यह मार्च समाज में न्याय की पुकार और महिलाओं की सुरक्षा को सुनिश्चित करने की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। श्रेया की हत्या ने पूरे बिहार को झकझोर कर रख दिया है। इस घटना की निष्पक्ष जांच और दोषियों को कड़ी सजा दिलाने की मांग को लेकर लोग सड़कों पर उतर आए हैं। अब देखना यह है कि प्रशासन और सरकार इस मामले में कितनी तत्परता से कार्रवाई करती है।

Leave a Comment