Samastipur : समस्तीपुर में उत्पाद पुलिस के खिलाफ सड़क पर निकले लोग.

समस्तीपुर में बिना किसी साक्ष्य के ताजपुर नगर परिषद के वार्ड पार्षद अशोक राय के घर पर बार-बार छापेमारी के खिलाफ गुरुवार को सर्वदलीय संघर्ष समिति के बैनर तले सामाजिक, राजनीतिक कार्यकर्ताओं और जनप्रतिनिधियों ने प्रतिरोध मार्च निकालकर विरोध जताया।

“उत्पाद विभाग के पुलिस की मनमानी पर रोक लगाओ”, “उत्पाद पुलिस निर्दोष लोगों को परेशान करना बंद करो”, “वार्ड पार्षद अशोक राय के घर बार-बार छापेमारी क्यों-उत्पाद अधीक्षक जबाब दो”, “उत्पाद पुलिस के भ्रष्टाचार पर रोक लगाओ”, “निर्दोष लोगों को पकड़कर पैसा लेकर छोड़ने का खेल बंद करो” जैसे नारे लगाते हुए कार्यकर्ताओं ने गांधी चौक से मार्च शुरू किया। यह मार्च दरगाह रोड, नीम चौक, अस्पताल रोड से होता हुआ अस्पताल चौक पर सभा में तब्दील हो गया।

इस सभा की अध्यक्षता वार्ड पार्षद अजहर मिकरानी ने की। भाकपा माले के ब्रह्मदेव प्रसाद सिंह, राजदेव प्रसाद सिंह, और राजद ने सभा को संबोधित किया। भाकपा माले प्रखंड सचिव सुरेंद्र प्रसाद सिंह ने मुख्य वक्ता के रूप में बोलते हुए कहा कि उत्पाद पुलिस की मनमानी और भ्रष्टाचार की शिकायतें लगातार मिलती रहती हैं। दोषियों को मैनेज कर छोड़ दिया जाता है जबकि निर्दोष लोगों को पकड़कर वसूली की जाती है और विफल होने पर जेल भेज दिया जाता है।

सुरेंद्र प्रसाद सिंह ने यह भी कहा कि शराब माफियाओं के खिलाफ शिकायत करने पर पुलिस खुद शिकायतकर्ता को ही फंसाने की साजिश करती है। अध्यक्षीय संबोधन में वार्ड पार्षद अजहर मिकरानी ने कहा कि अशोक राय के घर पर करीब 5 बार छापेमारी की गई लेकिन कभी कुछ बरामद नहीं हुआ। उन्होंने पुलिस की इस कार्रवाई को अशोक राय की छवि खराब करने और उन्हें अपमानित करने वाला बताते हुए दोषी पुलिस कर्मियों पर कार्रवाई की मांग की। मिकरानी ने यह भी कहा कि निर्दोष लोगों को परेशान करने पर रोक लगनी चाहिए और आंदोलन को तेज करने की घोषणा की।

   

Leave a Comment