Mudra Loan : अपना व्यवसाय खड़ा के लिए 10 लाख तक मिलेगा लोन, ऐसे मिलेगा सरकार की इस योजना का फायदा।

कोरोना महामारी में किसी की नौकरी गई तो किसी का बिजनेस ही चौपट हो गया. लेकिन धीरे धीरे ही सही लोगों की जिंदगी फिर से पटरी पर लौटने लगी है. मोदी सरकार भी लोगों को फिर से उनके रोजगार वापस दिलाने के लिए कई योजनाएं चला रही है.

कोरोना महामारी (Coronavirus) में किसी की नौकरी गई तो किसी का बिजनेस (Business) ही चौपट हो गया. लेकिन धीरे धीरे ही सही लोगों की जिंदगी फिर से पटरी पर लौटने लगी है. मोदी सरकार (Modi Government) भी लोगों को फिर से उनके रोजगार वापस दिलाने के लिए कई योजनाएं चला रही है. इसके लिए आत्मनिर्भर भारत 3.0 (Aatmanirbhar Bharat Mission) भी लॉन्च हो चुका है. इसके जरिए मोदी सरकार बंद हुए धंधे या कारोबार को फिर से खड़ा करने का मौका दे रही है.

अगर आप भी लॉकडाउन (Lockdown) के बाद खुद का कारोबार शुरू करना चाहते हैं तो इस योजना का फायदा उठा सकते हैं. छोटा कारोबार शुरू करने या फिर अपने पुराने काम को और तरक्की देने के लिए सरकार 10 लाख रुपए तक के लोन की कई योजनाएं चला रही है.

बैंक नहीं तो 'मुद्रा' से मिलेगा लोन :

अगर आप कोई छोटा-मोटा रोजगार शुरू करना चाहते हैं, लेकिन बैंक से लोन नहीं मिल पा रहा तो मोदी सरकार की प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) आपके लिए ही है. इस योजना के तहत वो हर व्यक्ति लोन ले सकता है जिसके नाम कोई कुटीर उद्योग है या जिसके पास पार्टनरशिप के दस्‍तावेज हैं.

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (PMMY) के तहत तीन चरणों में लोन दिए जाते हैं.

तीन तरह के मुद्रा लोन :

1. शिशु लोन- इसके तहत आप अपने बिजनेस को शुरू करने के लिए 50,000 रुपये तक का लोन ले सकते हैं. ये लोन उनके लिए है जो नया कारोबार शुरू करना चाहते हैं या शुरुआती स्टेज में हैं
2. किशोर लोन- इसके तहत 5 लाख रुपये तक का लोन लिया जा सकता है. ये लोन उनको मिलता है जो मौजूदा बिजनेस का विस्तार करना चाहते हैं.
3. तरुण लोन- सरकार कारोबार के लिए 10 लाख रुपये तक का लोन देती है. ये लोन उनको मिलता है जिनका बिजनेस पूरी तरह से स्थापित है.