समस्तीपुर में जिगरी दोस्त ने ही बनाई थी सीएसपी संचालक से लूट की योजना. Samastipur News

समस्तीपुर ज़िले में पंद्रह दिनों पूर्व सिघिया थाना क्षेत्र में सीएसपी संचालक से 4 लाख 76 हजार लूट की घटना में चार अपराधियों को गिरफ्तार करने के साथ-साथ लूट की घटना में इस्तेमाल किए गए बाइक तथा मोबाइल भी जब्त किया है। एसडीपीओ शहरियार अख्तर ने बताया कि घटना को लेकर गठित एसआईटी टीम द्वारा लगातार तकनीकी अनुसंधान के बाद यह सफलता मिली है।

 

गिरफ्तार अपराधियों में दरभंगा जिला के कुशेश्वरस्थान थाना अंतर्गत शंकरपुर भुसकोरवा निवासी हीरा पोद्दार का पुत्र नीतीश पोद्दार, बसतपुर निवासी बनारसी सरदार का पुत्र सुजीत सरदार उर्फ बिट्टू , हसनपुर थाना के रामपुर रजवा निवासी प्रवीण कुमार ठाकुर का पुत्र शुभम कुमार ठाकुर तथा बिथान थाना के बेलसंडी निवासी रामबालक यादव का पुत्र धर्मवीर कुमार उर्फ लालू यादव शामिल है। जबकि इस मामले में एक शातिर अपराधी भुसकोरवा के ही देबु यादव का पुत्र मुकेश यादव फरार बताया जा रहा है।

एसडीपीओ ने कहा कि उसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी जारी है। उन्होंने फरार अपराधी मुकेश एवं गिरफ्तार नीतीश को पूर्व में भी लूटपाट के मामले में जेल जाने की जानकारी दी। घटना के बाद पुलिस अधीक्षक द्वारा गठित विशेष अनुसंधान दल में डीएसपी के अलावा सिघिया हसनपुर एवं विथान थाना अध्यक्ष कृष्णकांत मंडल, पंकज कुमार एवं खुशबुद्दीन के अलावा सअनि जोगेंद्र सिंह, सुबोध कुमार एवं संजीव कुमार तथा सिपाही अखिलेश कुमार शामिल हैं।

बताते चलें कि बसुआ निवासी ब्रह्मदेव यादव कविलासी में सीएसपी चलाते हैं। एसबीआई सिघिया से रुपया लेकर सीएसपी लौटने के क्रम में अपराधियों ने रुपये लूट लिए थे। इसमें यह बात सामने आई कि जिगरी दोस्त ने ही लूट की योजना बनाई थी। विश्वासघात का शिकार हुआ सीएसपी संचालक ब्रह्मदेव सीएसपी संचालक ब्रह्मदेव यादव भी विश्वासघात का ही शिकार हुआ। जिसे वह जिगरी दोस्त समझता था उसी ने अपराधियों से मिलकर उसे लूटने की योजना बना डाली।

पुलिस ने बसतपुर के सुजीत सरदार एवं ब्रह्मदेव यादव के बीच दोस्ताना संबंध रहने की जानकारी दी। बताया कि यदा-कदा ब्रह्मदेव के साथ वह बैंक से पैसा लेने भी जाता था। धर्मवीर और सुजीत पूर्व में एक साथ ही पंजाब में काम करता था। धर्मवीर के बहकावे में ही सुजीत ने लाइनर की जिम्मेवारी थाम ली। और अपराधियों से मिलकर अपने दोस्त को ही शिकार बना डाला।

Leave a Reply