समस्तीपुर से प्रधानमंत्री मोदी को दी धमकी, दो युवक गिरफ्तार. Threats to PM Modi from Samastipur

Threats to PM Modi from Samastipur: समस्तीपुर में इंटरनेट मीडिया पर पीएम के खिलाफ आपत्तिजनक बात लिखने और पटना में उनके कार्यक्रम में बवाल मचाने के लिए साजिश रचने वाले दो युवकों को पटोरी से गिरफ्तार कर लिया गया। चार दिन पूर्व इंटरनेट मीडिया पर अग्निवीर की बहाली को लेकर पीएम को धमकी दी गई थी।

उसमें कई आपत्तिजनक बातें लिखी गई थी। साथ ही 12 जुलाई को पटना में प्रधानमंत्री के होने वाले कार्यक्रम में बवाल मचाने की साजिश भी वाट्सएप ग्रुप पर रची जा रही थी। पीएम को धमकी देने और उनके कार्यक्रम में बवाल करने की साजिश की बात सामने आई तो प्रशासनिक महकमे में हलचल मच गई। एसपी के निर्देश पर सघन जांच शुरू कर दी गई।

साजिशकर्ताओं के मोबाइल लोकेशन के आधार पर उन्हें पटोरी के सिनेमा चौक के समीप से गिरफ्तार कर लिया गया। गिरफ्तार युवक दक्षिणी डुमरी निवासी वीरलाल राय का पुत्र साजन कुमार तथा रामेश्वर राय का पुत्र रुदल कुमार है। रूदल एसबीआई में निजी गार्ड के रूप में कार्यरत है। पटोरी तथा मोहनपुर थाना पुलिस ने संयुक्त छापेमारी में इन दोनों को गिरफ्तार कर लिया। जिला पुलिस पटोरी थाना पहुंचकर दोनों से पूछताछ की तथा उसे गिरफ्तार कर ले गई।

गिरफ्तार रुदल कुमार के सिम का प्रयोग साजन कुमार करता था जो उसका चचेरा भाई है। दोनों सेना भर्ती की तैयारी के लिए एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाकर कार्य करते थे। साजन ग्रुप एडमिन था। उसी मोबाइल से साजन कुमार ने प्रधानमंत्री के पोर्टल पर धमकी दी। इतना ही नहीं वह ग्रुप मैसेज डाल कर सेना की तैयारी कर रहे युवकों को पटना में चलकर प्रधानमंत्री के कार्यक्रम में हंगामा करने के लिए चलने को उत्प्रेरित भी कह रहा था। इस बात की भनक जब प्रधानमंत्री से जुड़े सुरक्षा तंत्र को मिली तो प्रशासन के कान खड़े हो गए।

समस्तीपुर के एसपी को मोबाइल लोकेशन के आधार पर कार्रवाई का निर्देश दिया गया। मोबाइल लोकेशन के आधार पर शनिवार की दोपहर में युवकों का लोकेशन पटोरी बाजार के सिनेमा चौक पर मिला। पटोरी थाना पुलिस सिनेमा चौक के विभिन्न दुकानों तथा आसपास के क्षेत्रों में गुप्त ढंग से छापेमारी शुरू कर दी। शनिवार की देर शाम इन दोनों युवकों को दबोच लिया गया। डीएसपी ओमप्रकाश अरुण तथा थानाध्यक्ष संदीप कुमार पाल ने बताया कि युवकों की गिरफ्तारी की गई है।

गिरफ्तारी के बाद समस्तीपुर से आई पुलिस ने जब दोनों गिरफ्तार युवकों से पूछताछ की तो कई बातें सामने आई। उम्मीद की जाती है कि इस मामले में और भी कई चेहरे सामने आएंगे। मोहिउद्दीननगर में अग्निवीर बहाली के क्रम में हुए आंदोलन में उपद्रवियों ने जमकर तोड़फोड़ की थी और पूरे ट्रेन को जला दिया था। अनुमान है कि इस गिरोह के लोग उसमें शामिल होंगे और उनका तार इन उपद्रवियों के साथ जुड़ा हुआ होगा। पुलिस इस कांड को ध्यान में रखकर भी इस घटना की छानबीन कर रही है। पुलिस अधीक्षक हृदयकांत ने बताया कि मामले की सघन छानबीन की जा रही है। जांच पूरी होने के बाद ही कुछ कहा जा सकता है।

Leave a Reply