Samastipur News : टीटीई और यात्री में फिर हुई झड़प ! जयनगर – दानापुर -इंटरसिटी एक्सप्रेस की घटना, वीडियो हुआ वायरल.

Video Viral in Samastipur : वायरल वीडियो में साफ़ दिख रहा है कि टीटीई द्वारा यात्री को एसी बोगी से दूसरे बोगी में जाने को कहा जाता है तो वह दबंगई दिखाते हुए कहीं नहीं जाने की बात करता है और कहता है टिकट नहीं है पैसा भी नहीं है फाइन करेंगे तो पैसा भी नहीं देंगे. जहां ले चलना है ले चलो, जेल ले चलो.

Samastipur News : इन दिनों ट्रेन में यात्रियों के साथ टीटीई की झड़प का वीडियो खूब वायरल हो रहा है। ताजा वीडियो समस्तीपुर रेल मंडल के जयनगर स्टेशन से दानापुर तक चलने वाली इंटरसिटी एक्सप्रेस के एसी कोच की बतायी जा रही है, जिसमें यात्री और टीटीई के बीच फाइन देने के सवाल पर कहासुनी हो रही है। इस वायरल वीडियो में एसी बोगी में घुसे एक युवक से टीटीई टिकट की मांग कर रहा है। जबकि यात्री उसके साथ बेवजह उलझ रहा है।

इस वायरल वीडियो में साफ़ दिख रहा है कि टीटीई द्वारा यात्री को एसी बोगी से दूसरे बोगी में जाने को कहा जाता है तो वह दबंगई दिखाते हुए कहीं नहीं जाने की बात करता है और कहता है टिकट नहीं है पैसा भी नहीं है फाइन करेंगे तो पैसा भी नहीं देंगे। जहां ले चलना है ले चलो, जेल ले चलो।

हालांकि, इस दौरान एसी बोगी में एक वर्दीधारी भी दिख रहा है जो यात्री पर दबाव बनाने के बदले टीटीई को बात खत्म करने की बात कह रहा है। बाद में टीटीई रेलवे कंट्रोल को सूचना देकर बात को खत्म करता है। हां, इस मामले को छोड़ देता है उधर यात्रियों के बीच हुई इस कहासुनी का वीडियो ट्रेन में सफर कर रहे यात्री द्वारा बनाया जाता है जो सोमवार सुबह से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। घटना शनिवार की बताई गई है।

यह भी पढ़े :  समस्तीपुर में मां की पट खुलते ही उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़. Chaitra Navratri In Samastipur

सोमवार को ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन के बैनर तले कर्मचारियों का एक प्रतिनिधिमंडल सीनियर डीसीएम से मिलकर पूरे वाक्य की जानकारी दी है और ट्रेनों में टीटीई की सुरक्षा की मांग की है।

ईस्ट सेंट्रल रेलवे कर्मचारी यूनियन के शाखा अध्यक्ष मनोज कुमार का कहना है कि 3 दिन पूर्व भी पवन एक्सप्रेस में टीटीई और यात्री के बीच मारपीट का वीडियो वायरल हुआ था। इस घटना में भी पहले यात्री ने टीटीई पर पैर चलाया था। जिसके बाद वह घटना हुई थी। इंटरसिटी एक्सप्रेस में भी अगर टीटीई टिकट के लिए ज्यादा दबाव बनाते तो मारपीट हो सकती थी। हालांकि वहां पर टीटीई खुद शांत हो गए। जबकि इस दौरान वहां मौजूद पुलिसकर्मी सिर्फ तमाशबीन बने रहे।