समस्तीपुर के नगर – निगम विकास मंच ने जलजमाव पर चर्चा कर सौंपा ज्ञापन. Samastipur Nagar Nigam

 

समस्तीपुर ज़िले के नगर – निगम विकास मंच के संयोजक श्याम सुंदर कुमार ने जिला प्रशासन को नगर निगम क्षेत्र में जलजमाव तथा बहाली पर चर्चा कर ज्ञापन सौंपा। जिसकी प्रतिलिपि मुख्यमंत्री बिहार सरकार, नगर विकास मंत्री बिहार सरकार, सांसद समस्तीपुर, विधायक समस्तीपुर, एवं नगर निगम समस्तीपुर को भेजी हैं।

नगर निगम विकास मंच के संयोजक श्याम सुंदर कुमार,सह संयोजक मनोज कुमार गुप्ता तथा अनुपम कुमार ने जिला पदाधिकारी ने मिलकर नगर निगम क्षेत्र में जलजमाव तथा बहाली पर चर्चा करते हुए ज्ञापन जिला पदाधिकारी कार्यालय में सौंपा गया l जिसमें समस्या और निदान की चर्चा की गई है जो निम्न प्रकार है l जिला पदाधिकारी और नगर निगम समस्तीपुर के द्वारा कोई ठोस कार्रवाई जल निकासी पर नहीं की गई है जिस कारण नगर की स्थिति और भी बद से बदतर हो गई है और महामारी फैलने की आशंका व्यक्त की जा रही है l

जिला पदाधिकारी महोदय / जिला समस्तीपुर,

नगर निगम क्षेत्र में 3 महीनों से ज्यादा समय से लगातार भयावह जलजमाव , लोगों का महामारी का शिकार होना , विभिन्न मोहल्लों से लोगों का पलायन तथा पूर्व में तीन ज्ञापन सुपुर्द करने के बावजूद कोई ठोस निदान नहीं निकलने के संबंध में, समस्तीपुर नगर निगम क्षेत्र के अधिकांश हिस्से में विगत 3 महीने से लगातार 2 से 3 फीट जलजमाव की समस्या लगातार बनी हुई है और यह जलजमाव की समस्या बरसों बरसों से चली आ रही है l जैसा कि पिछले 2 वर्षों से आप को भी मालूम है l

इस समस्या के जानकारी इस वर्ष 28.06.21 को ज्ञापन के माध्यम से, 30.06.21 को ज्ञापन तथा वार्ता के माध्यम से, 02.07.21 इसको वार्ता तथा पुनः 07.07.21 को ज्ञापन, सुझाव तथा वार्ता के माध्यम से आपको अवगत कराया गया था और निदान का आग्रह किया गया l लेकिन कोई ठोस पहल नहीं हो सका और पूरा शहर अभी भी झील में तब्दील है और नगरवासी नारकीय जीवन जीने को अभिशप्त हैं और लोग बीमारियों का शिकार हो रहे हैं अब तो लोग विवश होकर विभिन्न मुहल्लों में मकान बेचकर पलायन करने को मजबूर हैं। जलजमाव गंदगी और बीमारियां दिन पर दिन बढ़ते जा रहा है और लोगों का जीना दूभर हो गया है, पूर्व के ज्ञापन को ध्यान में रखते हुए जल निकासी तथा गंदगी साफ कराने की अत्यंत आवश्यकता है तथा मुहल्लों में बढ़ती बीमारी और लोगों के बीमार होने के कारण ब्लीचिंग पाउडर का का छिड़काव तथा स्वास्थ्य जांच एवं चिकित्सा शिविर लगाने की आवश्यकता महसूस किया जा रहा है l क्योंकि जलजमाव के कारण लोगों को घरों से निकलना दूभर हो गया है और बीमार हालत में गंदे पानी में उतर कर अस्पताल तक पहुंचना मुहल्ले वासियों को कष्ट तथा कठिनाइयों का सामना करना पर रहा है l जो कि बीमार हालत में अस्पताल पहुंचना असंभव है, और बड़ी घटना घटने की आशंका भी व्यक्त किया जा सकता है l श्रीमान से आग्रह है कि भयावह जलजमाव वाले क्षेत्र में नाव की अविलंब व्यवस्था की जाए ताकि लोगों के पैर में गंभीर चर्म रोग, छाले, सड़ने से बचाया जा सके और सभी मोहल्लों में डॉक्टर की अविलंब व्यवस्था भी की जाए l

नगर निगम विकास मंच के कार्यकर्ताओं ने नगर भ्रमण के दौरान पाया कि अभी तक :-

1. समस्तीपुर से मुसरीघरारी मुख्य मार्ग पर बने दोनों तरफ का नाला में पूर्व का नाला कार्यरत है तथा पश्चिम तरफ का नाला अभी भी जाम है l नाला साफ कराने, अतिक्रमण हटाने तथा नाला से निकाला गया मलवा तुरंत फेंक देने की आवश्यकता है l

2. पंचवटी चौक से मोहनपुर रोड आदर्श नगर नाला अभी तक बंद है साफ कराने की आवश्यकता है और नाला से निकाले गए मलवा को तुरंत फेंक दिए जाने की आवश्यकता है l

3. काशीपुर चौक से पंचवटी चौक तक का नाला जाम है, अतिक्रमण है, नाला को साफ कराने, अतिक्रमण हटाने और मलवा को फेंक दिए जाने की आवश्यकता है l

4. श्रीकृष्णापुरी, आर.एन.ए.आर. कॉलेज, B.Ed कॉलेज रोड, B.Ed कॉलेज प्रांगण , B.Ed कॉलेज के चारों ओर स्थित मुहल्ला , प्रोफेसर कॉलोनी तथा तिरहुत एकेडमी के जल को पंपिंग सेट से निकाल कर अविलंब बाहर फेंकने की आवश्यकता है क्योंकि बीमारियों में अप्रत्याशित वृद्धि हुई है l

5. B.Ed कॉलेज से तिरहुत एकेडमी तक के नाला को साफ कराने तथा सड़क के मरम्मत की अत्यंत आवश्यकता है क्योंकि आए दिन इस रास्ते में दुर्घटना हो रहा है तथा नाला भी जाम है l मलवा को तुरंत बाहर फेंका जाना चाहिए l

6. डॉक्टर आर. पी. मिश्रा रोड या हॉस्पिटल रोड के नाला का निर्माण कार्य पूर्ण हो चुका है उसे अविलंब मोहनपुर रोड के नाले में खोला जाना चाहिए जिससे काशीपुर मुहल्ले तथा तिरहुत एकेडमी का पानी बाहर निकल सकता है l

7. पुरानी विमेंस कॉलेज रोड के नाला को साफ कराने की आवश्यकता है तथा मलवा को बाहर फेंका जाना चाहिए l

8. के. ई. इंटर कॉलेज रोड के नाला का सफाई साथ ही साथ मस्जिद गली के नाला का सफाई की आवश्यकता है तथा मलबा को बाहर फेंक दिया जाए साथ ही साथ कूड़ा कचरा और गंदगी का अंबार है उसे भी साफ कराने की आवश्यकता है l

9. ताजपुर रोड स्थित नाला की सफाई अतिक्रमण हटाने और नाला से निकाले गए मलवा तथा सड़क किनारे जमा कूड़ा कचरा के अंबार को हटाने की अत्यंत आवश्यकता है l

10. ताजपुर रोड का नाला B.Ed कॉलेज के नाले के तरफ खुला हुआ है l जो नीचा होने के कारण B.Ed कॉलेज , श्रीकृष्णापुरी , आर.एन.ए.आर. कॉलेज रोड, आर.एन. ए.आर. कॉलेज प्रांगण, प्रोफेसर कॉलोनी, तिरहुत एकेडमी में जल का जमाव का एक प्रमुख कारण है l इसे आजाद चौक पर बंद कराने की आवश्यकता है साथ ही साथ ताजपुर रोड के नाले की उड़ाही और अतिक्रमण मुक्त कराने की अत्यंत आवश्यक है l

11. पंजाबी कॉलोनी और धर्मपुर के जलजमाव को सीधा पंपिंग सेट के द्वारा गंडक नदी में डाला जाए l

12. पुरानी पोस्ट ऑफिस रोड का नाला का सफाई तथा निर्माण जल्द से जल्द कराया जाए l

13. आदर्श नगर चौर के जलजमाव को निकालने के लिए फिलहाल कच्चा नाला का निर्माण कर जमवारी नदी में गिराया जाए l

14. श्री कृष्णा पूरी, आर.एन.ए.आर. कॉलेज के तरफ मोहल्ला, B.Ed कॉलेज के चारों तरफ स्थित मुहल्लों, प्रोफेसर कॉलोनी, काशीपुर, तिरहुत एकेडमी के पास स्थित मुहल्लों में बीमारियों के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए स्वास्थ्य जांच तथा चिकित्सा शिविर की व्यवस्था किया जाए तथा ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव पूरे मोहल्ले में किया जाए l

15. नियमित रूप से पंपिंग सेट का परिचालन नहीं होना भी जल निकासी नहीं होने का एक प्रमुख कारण है l

16. नाला साफ (उड़ाही) नहीं किया जाना भी जल निकासी में विलंब होने का एक प्रमुख कारण है l

17. सभी निचले क्षेत्र में स्थित कॉलोनीयों मुहल्लों के सड़कों को कम से कम 2 फीट ऊंचा कराने की आवश्यकता है और नाला निर्माण, सफाई तथा नाला को नाला से आपस में जोड़ दिए जाने की जरूरत है l

18. गैस गोदाम रोड, हाई स्कूल रोड धरमपुर, तथा मन्यूसरपेलटी वाले मुहल्लों में नाला का निर्माण कर ताजपुर रोड के नाला से जोड़ दिया जाए l ताजपुर रोड के नाला का पूर्ण साफ-सफाई और अतिक्रमण मुक्त कराया जाए तथा मलवा को उठा कर तुरंत फेंक दिए जाने की जरूरत है l

19. रेलवे कॉलोनी समस्तीपुर की तर्ज पर नगर निगम क्षेत्र का विकास करने की परियोजना बनाई जाए, जहां समुचित जल निकासी हेतु नाला, पक्की सड़क और आपस में जुड़े हो व्यवस्था हो l तथा नियमित रूप से साफ सफाई का कार्य कराया जाए l

20. नगर निगम क्षेत्र में सड़कों पर कूड़ा कचरा का अंबार लगा है जिसकी बदबू और सड़ांध से लोगों का नगर में जीना दूभर हो गया है l पूरे नगर निगम क्षेत्र से कूड़ा कचरा को अविलंब उठाकर बाहर फेंका जाए l

21. गंडक नदी के बांध किनारे बसे झुग्गी झोपड़ी के गरीब लोगों के लिए सामुदायिक किचन की शुरुआत की जाए ,स्वास्थ्य जांच एवं चिकित्सा शिविर लगाया जाए तथा जलजमाव के कारण जिनकी जीविकोपार्जन के साधन नष्ट हो चुके हैं उन्हें आर्थिक सहायता और खानपान की वस्तुएं तथा स्वास्थ्य सुविधा मुहैया कराया जाए l

22. कमोबेश पूरा समस्तीपुर नगर निगम क्षेत्र नरक निगम में बदल चुका है इसके छवि बदलने के लिए कारगर कदम जल्द से जल्द उठाए जाने की आवश्यकता है l

23. समस्तीपुर कॉलेज समस्तीपुर के प्रांगण तथा जितवारपुर के समीप तमाम क्षेत्रों में जलजमाव को अविलंब निकालने की व्यवस्था की जाए l

24. सभी जलजमाव वाले क्षेत्रों में अभिलंब नाव की व्यवस्था की जाए ताकि लोगों को गंभीर चर्म रोग पैर में छाले , सड़ने इत्यादि से बचाया जा सके और प्रत्येक मोहल्ले में डॉक्टर उपलब्ध कराया जाए l

25. जलजमाव वाले क्षेत्रों में जलकुंभी तथा जलीय घास की अत्यधिक वृद्धि होने के कारण आम रास्तों तथा सड़कों पर भी जलकुंभी तथा जलीय घासो का अतिक्रमण होने लगा है और विषैले जीव जंतुओं की संख्या में अत्यधिक वृद्धि हुई है और लोग विषैले जीव जंतुओं के शिकार भी हो रहे हैं अतः जल निकासी या नाव की अविलंब व्यवस्था की जानी अतिआवश्यक है l

26. 3 महीने से ज्यादा समय तक जलजमाव और निकासी की व्यवस्था नहीं किया जाना या नाव उपलब्ध नहीं कराया जाना, गंदगी कूड़ा कचरा का अंबार पूरे समस्तीपुर शहर में होना यह संवेदनहीनता नहीं तो क्या है ? क्योंकि उपरोक्त समस्याओं से तकरीबन चार लाख से ज्यादा की आबादी प्रभावित है l

अतः श्रीमान से आग्रह है कि उपरोक्त बातों पर गंभीरता से ध्यान देते हुए संवेदना के साथ कार्य को मूर्त रूप प्रदान किया जाए और नगर वासियों को राहत प्रदान किया जाए, नगरवासी आपके इस कार्य के लिए आभारी रहेंगेl

Leave a Reply