समस्तीपुर सदर अस्पताल विवाद में जीएनएम का हुआ तबादला, उपाधीक्षक को पद से हटाया. Samastipur Sadar Hospital Dispute

Samastipur Sadar Hospital Dispute: समस्तीपुर सदर अस्पताल में परिचारिका श्रेणी ए नवीन्ता कुमारी पर प्रभारी उपाधीक्षक द्वारा कथित रूप से कुर्सी फेंकने और मारपीट मामले में सिविल सर्जन ने कार्रवाई की। सिविल सर्जन डा. एसके चौधरी ने दोनों के बीच तनाव को देखते हुए प्रभारी उपाधीक्षक के पद से डा. गिरीश कुमार को मुक्त कर दिया।

चिकित्सा पदाधिकारी डा. आरपी मंडल को प्रभारी उपाधीक्षक बनाया है। डा. गिरीश को सदर अस्पताल में चिकित्सा पदाधिकारी के पद पर कार्य करने को कहा गया है। वहीं परिचारिका श्रेणी ए नवीन्ता कुमारी को सदर अस्पताल से हटाकर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सरायरंजन में कार्य करने का आदेश दिया गया है।

सीएस ने पूरे मामले की जांच के लिए तीन सदस्यीय कमेटी गठित की है। बिहार चिकित्सा एवं जन स्वास्थ्य कर्मचारी संघ के जिला मंत्री राजीव रंजन ने कहा कि इस तरह का पक्षपातपूर्ण आदेश महिलाओं के शोषण, दोहन एवं उनके प्रति दोहरी मानसिकता को दर्शाता है।

दूसरी ओर सदर अस्पताल के पूर्व प्रभारी उपाधीक्षक डा. गिरीश कुमार ने भी जीएनएम के विरुद्ध अभद्र व्यवहार, गाली गलौज कर अपमानित करने की लिखित शिकायत सिविल सर्जन से की। बताया कि 20 मई की दोपहर करीब ढाई बजे अपने कक्ष में अस्पताल प्रबंधक के साथ दैनिक कार्यों का निष्पादन कर रहे थे। इसी क्रम में एकाएक नवीन्ता कक्ष में प्रवेश कर तुम-ताम करते हुए क्रोधित होकर गंदी-गंदी गालियां देने लगी।

Leave a Reply