समस्तीपुर में सर्जन के बदले चर्म रोग चिकित्सक ने बिना देखे ही मरीज को कर दिया रेफर. Samastipur Sadar Hospital

Samastipur Sadar Hospital: समस्तीपुर सदर अस्पताल में चिकित्सक के कार्य को लेकर मंगलवार को एक बार फिर से सवाल उठा। वारिसनगर प्रखंड के माधोपुर गांव निवासी देव नारायण राय की पत्नी फुल कुमारी देवी (62) का इलाज कराने उनके स्वजन पहुंचे थे। मरीज को टेम्पो से लेकर सदर अस्पताल आए थे।

महिला मरीज का पांव टूटे रहने की वजह से पूर्व में आपरेशन किया गया था। मरीज को तकलीफ की वजह से इलाज कराने पहुंचे थे। लेकिन ओपीडी के सर्जरी विभाग में आन ड्यूटी चिकित्सक नदारद थे। ऐसे में रजिस्ट्रेशन काउंटर पर चर्म रोग विशेषज्ञ से इलाज कराने के लिए पूर्जा काट दिया। मरीज के स्वजन ने चिकित्सक से मरीज को देखने की बात कही।

इस पर चिकित्सक ने मरीज को देखे बिना ही पुर्जा पर पीएमसीएच के लिए रेफर कर दिया। उसपर सिर्फ ओपीडी नंबर दर्ज करते हुए रेफर लिख दिया। इसके बाद स्वजन टेंपो से मरीज को गोद में उठाकर एंबुलेंस में रखे। इससे पूर्व 102 पर काल कर पीएमसीएच जाने के लिए काल बनाया। इसके बाद मरीज को लेकर पीएमसीएच के लिए एंबुलेंस रवाना हो गया।

सर्जन वार्ड में नहीं थे चिकित्सक : Samastipur Sadar Hospital

सदर अस्पताल में सर्जरी विभाग पिछले एक साल से सर्जन की तैनाती नहीं थी। पिछले दिनों विभागीय स्तर पर दो-दो सर्जन पदस्थापित किए गए हैं। इसमें डा. सुमित कुमार व डा. मनीष साह ने योगदान दिया हैं। इसके बाद ओपीडी के सर्जन वार्ड में ड्यूटी लगाई गई है। लेकिन इसके बाद भी सर्जन अपने ड्यूटी पर नहीं पहुंच रहे है। इसी वजह से दूसरे विभाग के चिकित्सक को रेफर करना मजबूरी बना हुआ है।

 

 

Source: Jagran.com

Leave a Reply