Samastipur Rail News : समस्तीपुर रेल मंडल घोटाला : स्क्रैप कटिंग करने के बाद लोको शेड में इंजीनियर से बनायी हाजिरी!

 

समस्तीपुर रेल मंडल के पूर्णिया कोर्ट स्टेशन से स्क्रैप गबन मामले में जांच होने के बाद परत दर परत इसका नया खुलासा सामने आ रहा है। हालांकि इस पूरे प्रकरण में चल रही जांच को पूरी तरह गोपनियता बरती जा रही है। ताकि स्क्रैप मामले की जांच में किसी भी तरह का कोई व्यवधान नहीं हो। इसको लेकर जांच अधिकारी पूरी तरह गोपनियता बरत रहे हैं।

 

सूत्रों की बात मानें तो स्क्रैप कटिंग करने को लेकर 14 दिसंबर को सीनियर सेक्शन इंजीनियर लोको शेड से हेल्पर लेकर पूर्णिया कोर्ट गया और फर्जी मेमो देकर स्क्रैप की कटिंग करायी। वहीं वरीय अधिकारियों को अपने पिता के बीमार होने की सूचना देकर लोको शेड नहीं आने की सूचना दे डाली। जबकि सीनियर सेक्शन इंजीनियर भागलपुर में अपने पिता के पास के बजाए पूर्णिया कोर्ट चले गए थे।

इसके बाद फिर से 15 दिसंबर से पूर्ववत लोको शेड पहुंचकर अपनी ड्यूटी शुरु कर दी। सूत्रों का बताना है कि इस बीच सीनियर सेक्शन इंजीनियर आरआर झा ने मौका का फायदा उठाते हुए पंजी मंगवाकर 14 दिसंबर की भी हाजिरी बना दी। हालांकि अधिकारी इस मामले में चुप्पी साधे हैं। पूरी जांच के बाद ही मामला साफ हो पाएगा।

लोको शेड में चल रही इंटरनल जांच:

पूर्णिया कोर्ट स्क्रैप गबन मामले के बाद अब इसको लेकर लोको शेड में इंटरनल जांच भी शुरु कर दी गयी है। मिली जानकारी के अनुसार एडीएमई प्रशांत कुमार को इस जांच की जिम्मेदारी दी गयी है। जिसके बाद एडीएमई प्रशांत कुमार द्वारा इस पूरे प्रकरण की जांच शुरु कर दी गयी है। इस दौरान सीनियर सेक्शन इंजीनियर व हेल्पर से जुड़े कर्मियों से पूछताछ की जा रही है।

 

विजिलेंस की टीम कर रही है जांच:

स्क्रैप मामले में की जांच में हाजीपुर जोन की स्पेशल विजिलेंस की टीम जुटी है। वहीं आरपीएफ की टीम आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए समस्तीपुर के अलावे पटना व भागलपुर में कई ठिकानों पर छापेमारी कर चुकी है। इसकेबावजूद सीनियर सेक्शन इंजीनियर एवं हेल्पर का कोई पता नहीं चला है। इधर, विजिलेंस की टीम लगातार डीआरएम कार्यालय एवं उससे जुड़े कार्यालय में जाकर फाइलों को खंगाल रही है। लेकिन अभी तक इसका खुलासा नहीं हो पाया है। वहीं इसमें शामिल कोई भी आरोपी अभी तक पुलिस की गिरफ्त में नहीं आ सका है।

 

Leave a Reply