Samastipur Rail News : समस्तीपुर रेलवे स्क्रैप घोटाला : रेलवे लोको शेड के स्क्रैप के फाइलों में ढूंढा जा रहा सुराग.

समस्तीपुर लोको शेड से जुड़े स्क्रैप मामले से संबंधित अब पुराने फाइलों को भी खंगाला जा रहा है। वरीय अधिकारियों के निर्देश पर डीजल लोको शेड में पिछले कुछ वर्षों में हुए स्क्रैप टेंडर से संबंधित फाइलों को फिर से खंगाला जा रहा है। इन फाइलों की मदद से स्क्रैप गबन के आरोपी का सुराग के अलावे पूर्व में किए गए गड़बड़ियों की तलाश शुरु कर दी गयी है। Samastipur Rail News

 

साथ ही पूर्व के स्क्रैप मामले में किन-किन कर्मियों एवं अधिकारियों के साथ स्क्रैप का टेंडर किया गया। वहीं सबसे खास बात यह है कि स्क्रैप से जुड़े व्यवसायी के तार को भी खंगाला जा रहा है। ताकि यह पता लगाया जा सके कि इस स्क्रैप गबन मामले में किसी बड़े स्क्रैप व्यवसायी की भी कोई संलिप्तता तो नहीं है। Samastipur Rail News

 

पूर्णिया स्क्रैप गबन मामले में तो अब तक विजिलेंस एवं आरपीएफ की टीम को कोई सुराग हाथ तो नहीं लगी, लेकिन इसी बीच पुराने फाइलों की जांच शुरु होने से इससे जुड़े कई अन्य कर्मियों एवं अधिकारियों के बीच भी हड़कंप मचा हुआ है। हालांकि अभी जांच की हर प्रक्रिया को गोपनीय तरीके से किया जा रहा है। जिसके कारण स्क्रैप मामले से संबंधित हर कर्मी काफी परेशान नजर आ रहे हैं। पता नहीं शक व कारवाई की सूई कब किन कर्मी की तरफ घूम जाए। Samastipur Rail News

 

मुख्यालय में हुई पूछताछ : Samastipur Rail News

पूणिया स्क्रैप गबन मामले में 13 दिन बाद भी गायब किए गए स्क्रैप का एक टुकड़ा भी बरामद नहीं हो सकी। वहीं बनमनखी आरपीएफ पोस्ट में प्राथमिकी के दस दिनों के बाद भी एक भी आरोपी पुलिस के हाथ नहीं लगी। इसको लेकर बनमनखी आरपीएफ पोस्ट के इंचार्ज एवं अनुसंधान टीम को मंडल मुख्यालय बुलाया गया तथा वरीय अधिकारियों के द्वारा उनसे पूछताछ की गयी। साथ ही प्राथमिकी दर्ज होने के बाद से अब तक की गयी कारवाई एवं जांच के बारे में भी समीक्षा हुई। Samastipur Rail News

 

हर दिन लौट रही है टीम : Samastipur Rail News

आरपीएफ की आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए समस्तीपुर के अलावे पटना, भागलपुर सहित अन्य संभावित ठिकानों पर लगातार छापेमारी कर रही है। लेकिन हर दिन पुलिस टीम को खाली हाथ लौटना पड़ रहा है। इस कड़ी में सीनियर सेक्शन इंजीनियर के परिजनों पर भी दवाब बनाया जा रहा है ताकि उनके संपर्क में आते ही इसकी सूचना दी जाए। लेकिन कोई सफलता हाथ नहीं लग रही है। रविवार को एक टीम फिर से समस्तीपुर स्थित एसएसई के आवास पर पहुंची, लेकिन वहां से खाली हाथ लौटना पड़ा। Samastipur Rail News

Leave a Reply