Samastipur Rail News : समस्तीपुर रेल स्क्रैप गबन मामले में कबाड़ दुकानों में भीषण छापेमारी.

समस्तीपुर रेल मंडल के पूर्णिया कोर्ट स्टेशन परिसर से गायब किए गए स्क्रैप मामले अभी भी पहेली बनी हुई है। इस कड़ी में शहर के कई कबाड़ व्यवसायी के दूकानों पर छापेमारी की गयी। हालांकि इस दौरान आरपीएफ की विशेष टीम को कोई स्क्रैप का अवशेष नहीं मिला।

 

मिली जानकारी के अनुसार समस्तीपुर स्टेशन के आसपास एवं शहर के कुछ कबाड़ दूकान में स्क्रैप को खेपने की सूचना आरपीएफ की विशेष टीम को मिली। इसकी सूचना पर आरपीएफ की विशेष टीम समस्तीपुर पहुंची और स्थानीय पुलिस की मदद से कई कबाड़ व्यवसायी के दूकान पर छापेमारी की। छापेमारी होते ही इन व्यवसायी एवं कर्मियों के बीच हड़कंप मच गया।

छापेमारी के दौरान कबाड़ दूकान में रखे गए स्क्रैप की जांच पड़ताल की गयी। लेकिन इस दौरान पूर्णिया कोर्ट स्टेशन से गायब स्क्रैप छापेमारी टीम के हाथ नहीं लगी। सूत्रों का कहना है कि इस स्क्रैप मामले में शहर के एक कबाड़ व्यवसायी की भूमिका संदिग्ध है। जिसकी सूचना के बाद यह छापेमारी की गयी। लेकिन फिलहाल आरपीएफ अधिकारी कुछ स्पष्ट नहीं बता पा रहे हैं।

 

इधर, आरपीएफ कमांडेंट एके लाल ने बताया कि यह अनुसंधान की एक कड़ी है। जहां कहीं भी सूचना तथ्यात्मक प्रतीत होती है तो वहां जांच टीम जाकर छापेमारी व जांच पड़ताल करती है। इसी कड़ी में जांच की गयी है।

 

इधर, सूत्रों का कहना है कि पूणिया कोर्ट से लाए गए स्क्रैप को समस्तीपुर शहर के एक व्यवसायी की मिली भगत से दूसरे ट्रक पर अनलोड किया गया। फिर पूर्णिया से लाए गए ट्रक व पिकअप वैन को मुक्त कर दिया गया और दूसरे ट्रक के माध्यम से स्क्रैप को पटना में खपा दिया गया है। फिलहाल इसका भी खुलसा जांच टीम के जांच प्रतिवेदन के बाद ही हो पाएगा। फिलहाल घटना के 15 दिन के बाद भी आरपीएफ को एक भी आरोपी की गिरफ्तारी में कोई सफलता हाथ नहीं लगी है।

Leave a Reply