समस्‍तीपुर में अपराध – लूटपाट रोकना पुल‍िस के ल‍िए बड़ी चुनौती. Samastipur Police

Samastipur Police: समस्‍तीपुर ज़िले में पिछले कुछ दिनों से बढ़ रही लगातार रुपये लूट की घटना ने पुलिस के लिए परेशानी पैदा कर दी है। हर दिन बदमाश लाखों रुपये लूट की घटना को अंजाम दे रहे हैं। इस घटना के बाद से भी पुलिस पूरी तरह खामोश है। ऐसा लगता है कि लूट की घटना महज छोटी हो। बदमाशों ने शुक्रवार की देर शाम भी थाना के महज कुछ दूरी पर दो लाख 95 हजार रुपये लूट लिए।

विभूतिपुर थाना क्षेत्र के कल्याणपुर निवासी शिवेश मिश्रा के पुत्र रौशन मिश्रा के साथ यह घटना थाना रोड के पास घटी। इसके एक दिन पूर्व ही एनएच 28 के एक होटल के पास सरदारगंज निवासी व्यवसायी रमेश प्रसाद से भी डेढ़ लाख रुपये लूट लिए। पांच दिन पूर्व चकबहाउद्दीन पंचायत के मुखिया श्याम राय उर्फ बबली राय की बाइक की डिक्की तोड़कर पांच लाख 50 हजार की चोरी की घटना को अंजाम दिया गया। इसके पूर्व भी स्टेट बैंक की मुख्य शाखा के पास रुपये से भरा लाखों रुपये का झोला लूट की घटना को बदमाशों ने अंजाम दिया।

Samastipur Police ग्राहकों की रेकी के बाद लूट की घटना को देते अंजाम :

शहर के अधिकांश बैंकों में बदमाश हर दिन बैंक के ग्राहकों की रेकी करते हैं। इससे निश्चिंत बैंक ग्राहक को अपना लक्ष्य बनाकर लूट की घटना को अंजाम देते रहे। यह बैंकों की सुरक्षा पर भी कई सवाल खड़े करते है। हर दिन स्थानीय पुलिस बैंक जांच कराने का दम भरती है। सवाल यह भी कि कैसे बैंकों के अंदर बड़े आराम से बदमाश घूमते हुए अपना टारगेट सेट कर लूट की घटना को आजम दे देते हैं।

Samastipur Police दर्ज होती है झोला गिरने या चोरी की प्राथमिकी :

रुपये लूट मामले में अधिकांश प्राथमिकी चोरी में दर्ज की जाती है, जबकि छोटी राशि में पुलिस झोला गिर जाने से संबंधित सनहा दर्ज करती है। कुछ जागरूक लोगों के दबाव पर कभी कभार लूट की प्राथमिकी दर्ज भी होती है। अनुसंधान क्या हुआ उसकी जानकारी पीड़ित को महीनों महीनो तक नहीं होती।

INPUT - JAGRAN.COM

Leave a Reply