समस्तीपुर : अल्टीमेटम मिला था 24 घंटे का, 48 घंटे बाद भी नहीं हटाया अतिक्रमण. samastipur news encroachment not removed after 48 hours

Samastipur News :नगर निगम की लचर सफाई व्यवस्था में आम लोगों की लापरवाही के साथ ही प्रशासनिक अनदेखी भी खासा जिम्मेदार है। जिसका नतीजा है कि जिस काम को समय रहते होना चाहिए, वह हमेशा ही लेट होता है। ऐसा ही एक उदाहरण वर्तमान में मानसून को देखते हुए नाला सफाई को लेकर नालों पर अतिक्रमण किए हुए लोगों को दिए गए प्रशासनिक अल्टीमेटम में देखने को मिल रहा है। नगर प्रशासन की ओर से बीते 18 मई को निगम क्षेत्र के ऐसे 101 दुकानदारों व आम लोगों को नोटिस किया गया था, जिन्होंने नालों पर अतिक्रमण कर रखा था।

 

यह नोटिस 24 घंटे में अतिक्रमण खाली करने का था। ऐसा नहीं करने पर प्रशासन ने जुर्माना की राशि वसूलते हुए कार्रवाई का निर्देश दिया था। अब जबकि अल्टीमेटम का 48 घंटा बीत चुका है न तो किसी अतिक्रमणकारी की ओर से ही नाला से अतिक्रमण हटाया गया है, न ही नगर प्रशासन की ओर से जुर्माना वसूली या किसी प्रकार की कार्रवाई ही की गई है। बताया जाता है कि नाला सफाई में जितना ही विलंब होगा मानसून के समय जलनिकासी में उतनी ही दिक्कत होगी। इस प्रशासनिक लापरवाही का नतीजा अंत में जलजमाव के रूप मेें आम जनता को ही भुगतना होगा।

 

ताजपुर व पूसा रोड में 61 लोगों को भेजा गया नोटिस :वहीं नाला पर अतिक्रमण को लेकर नोटिस जारी करने का काम जारी है। टैक्स दारोगा भपेंद्र सिंह ने बताया कि पूसा रोड, बैतल चौक, ताजपुर रोड व थानेश्वर मंदिर के निकट मिलाकर 61 लोगों को नोटिस भेजा गया है। खाली कराने की कार्रवाई जल्द होगी।

 

नालों पर बढ़ रहा अतिक्रमण बनता है जाम का कारण, दिन में सड़क पर रेंगते हैं वाहन : शहर में नालों पर हर जगह अतिक्रमण बढ़ता ही जा रहा है। स्टेशन रोड, बंगाली टोला, ताजपुर रोड, मोहनपुर के साथ ही अब केई इंटर रोड, काशीपुर की छोटी गलियों आदि में नालों पर दुकानें खुलती जा रही है। नतीजतन हर जगह जाम की स्थिति बनती है। प्रशासनिक लापरवाही से नालों के साथ ही शहर की आधी सड़कों पर अतिक्रमण मौजूद है। इसमें स्टेशन रोड, गोला रोड, मारवाड़ी बाजार, रामबाबू चौक, नीम गली चौक सहित सभी मुख्य बाजारों में अतिक्रमण मौजूद है। जिसे हटाने की पहल नहीं की जा रही है।​​​​​​​

नाला पर अतिक्रमण करने वालों को 24 घंटे में खाली करने का नोटिस बाद एक दिन का समय और दिया गया था। अब वहां से अतिक्रमण हटाने के लिए एसडीओ व सीओ को पत्र लिखा गया है। जल्द ही जुर्माना की कार्रवाई कर अतिक्रमण खाली कराया जाएगा। -संजीव कुमार, आयुक्त, नगर निगम

INPUT – BHASKAR.COM

Leave a Reply