Samastipur News : दबंगों ने हथियार के बल पर कब्जा किया जमीन, कार्रवाई को लेकर थाना परिसर में अनशन पर बैठा पीड़ित परिवार.

Samastipur Crime News : दबंगों द्वारा जमीन पर अवैध कब्जा करने एवं प्राथमिकी दर्ज कराने के बावजूद कार्रवाई नहीं होने से व्यथित पीड़ित परिवार के करीब दर्ज़न भर लोग गुरुवार से चकमेहसी थाना परिसर में अनशन पर बैठ गए हैं.

 

Samastipur News : समस्तीपुर जिले के कल्याणपुर प्रखंड में दबंगों द्वारा जमीन पर अवैध कब्जा करने एवं प्राथमिकी दर्ज कराने के बावजूद कार्रवाई नहीं होने से व्यथित पीड़ित परिवार के करीब दर्ज़न भर लोग गुरुवार से चकमेहसी थाना परिसर में अनशन पर बैठ गए हैं। इस दौरान पीड़ित परिवार के सदस्य पुलिस पर कार्रवाई करने के बजाय लापरवाही बरतने का आरोप लगा रहे थे।

 

इस सम्बन्ध में चकमेहसी थाना क्षेत्र के कुढ़वा पंचायत अंतर्गत वार्ड 10 कोठिया निवासी हितलाल राय ने बताया कि खतियानी जमीन पर कुछ ग्रामीणों ने सोची समझी साजिश तहत उन्हें जमीन से बेदखल करने व कब्जा करने की नीयत से 10 दिसंबर को हथियार के बल परअवैध निर्माण कर दिया है और उसके बाद धीरे धीरे भूमि पर कब्जा करना शुरू कर दिया है। जबकि इस सम्बन्ध में एक मामला न्यायालय में विचाराधीन है।

पीड़ित ने बताया कि उक्त लोगों ने पूर्व में भी उनकी खतियानी जमीन पर लगी तोड़ी, गेंहू की फसल को जोतकर नष्ट कर दिया था। अनशन पर बैठे परिवार ने पुलिस पर आरोप लगाया कि तोड़ी की फसल नष्ट करने के मामले में 4 नवंबर को ही आवेदन दिया गया, लेकिन पुलिस ने 17 नवंबर को प्राथमिकी दर्ज की। लेकिन कार्रवाई नहीं की। पुलिस के इस रवैये से परेशान होकर पूरे परिवार को अनशन पर बैठने को मजबूर होना पड़ा। पीड़ित हितलाल राय अपने परिवार की महिला, बच्चे व बुजुर्ग के साथ चकमेहसी थाना परिसर में गुरुवार सुबह करीब 10 बजे से अनशन पर बैठे गये थे। सूचना पर पहुंचे सीओ कमलेश कुमार के नेतृत्व एसआई शहबाज आलम, एएसआई शिवकुमार पासवान आदि ने परिवार से वार्ता की।

यह भी पढ़े :  समस्तीपुर से प्रधानमंत्री मोदी को दी धमकी, दो युवक गिरफ्तार. Threats to PM Modi from Samastipur

सीओ ने कहा कि न्यायालय का फैसला आने तक शांति व्यवस्था के किए धारा 144 लगाने व यथास्थिति रखने का निर्देश दिया है। इसके बाद पीड़ित परिवार ने अनशन समाप्त किया। इधर पुलिस के अनुसार उक्त खतियानी जमीन में से अंचल के नया सर्वे के अनुसार 2 बीघा 13 कट्ठा 3 धुर जमीन पर दूसरा पक्ष द्वारा हक जताया जा रहा है। जिसका अंचल से रसीद भी दूसरे पक्ष के लोगो द्वारा कटाया जा रहा है। उक्त भूमि पर ही दोनो पक्षों में अपना अपना हक जताने को लेकर विवाद है।