काशीपुर में नर्सिंग होम के संचालक हत्या या खुदकशी? संदेह के दायरे में एक महिला. Samastipur News

समस्तीपुर शहर के काशीपुर इलाके में सावित्री नर्सिंग होम के संचालक सह कंपाउंडर 20 वर्षीय अभिषेक कुमार उर्फ राजा की संदेहास्पद मौत मामले में रहस्य बरकरार है। गत 8 फरवरी को नर्सिंग होम के एक बंद कमरे में पंखे में झूलता अभिषेक का शव मिला था। मृतक की मां ने थाना में एक आवेदन देकर हत्या की शिकायत दर्ज कराई है। जबकि, दूसरी ओर खुदकशी की भी चर्चा है। पुलिस कई ब‍िंदुओं को ध्यान में रखकर जांच कर रही है। हत्या और आत्महत्या दोनों एंगल से मामले की छानबीन की जा रही है।

फिलहाल, हत्या या खुदकशी का स्पष्ट कारण सामने नहीं आया है। पुलिस को एफएसएल व पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने का इंतजार है। मृतक के मोबाइल का सीडीआर (कॉल डिटेल रिकार्ड) भी खंगाला जा रहा है। इधर, दर्ज प्राथमिकी में मृतक की मां ने सावित्री नर्सिंग होम में अभिषेक के बिजनेस पार्टनर अंगारघाट थाना क्षेत्र के सुपौल गांव के बालमुकुंद राय, मकान मालिक शंकर महतो, मगरदही मोहल्ला के रवि कुमार और बबिता कुमारी समेत पांच अज्ञात को नामजद किया है।

 

 

बताया है कि अभिषेक और बालमुकुंद दोनों बिजनेस पार्टनर थे और दोनों साथ मिलकर काशीपुर मोहल्ला स्थित शंकर महतो के मकान में नर्सिंग होम का संचालक करते थे। दर्ज प्राथमिकी में बबिता कुमारी नाम की जिस महिला को नामजद किया गया है, उससे अभिषेक का क्या संबंध था। पुलिस नर्सिंग होम संचालक की मौत में उक्त महिला की भूमिका को संदेह में रखकर जांच कर रही है। नर्सिंग होम के कर्मियों से भी पूछताछ की गई है। थानाध्यक्ष अरुण राय ने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है।

 

क्या है मामला:

मुफस्सिल थाना क्षेत्र के लगुनियां सूर्यकंठ पंचायत के कोरबद्ध गांव निवासी कोरबद्धा गांव निवासी गणेश राय के पुत्र 20 वर्षीय अभिषेक कुमार उर्फ राजा शहर के काशीपुर मोहल्ला में गल्र्स हाई स्कूल के सामने एक किराए के मकान में बिजनेस पार्टनर के साथ एक नर्सिंग होम का संचालक करते थे। साथ ही उक्त नर्सिंग होम में कपांउडर का भी काम करते थे। बीते 8 फरवरी को उक्त नर्सिंग होम के एक बंद कमरे से पंखे में झूलता अभिषेक का शव मिला। स्थानीय लोगों ने मृतक के स्वजनों को घटना की जानकारी मिली। आनन फानन में स्वजन वहां पहुंचे और कमरे का दरवाजा खोल कर मृतक का शव देखा। घटना से आक्रोशित लोगों ने जमकर हंगामा किया। नर्सिंग होम में तोडफ़ोड़ किया। नगर पुलिस को घटना की सूचना दी गई। फारेंङ्क्षसक टीम ने घटनास्थल से साक्ष्य जुटाए हैं। पोस्टमार्टम रिपोर्ट और फारेंसिक टीम की रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के कारणों का पता चलेगा।

Leave a Reply