समस्तीपुर में युवक की हत्या कर बिजली टावर से टांगा शव. Samastipur News

  • पंकज की हत्या से आक्रोशित ग्रामीणों ने पुलिस को घेरा.
  • पंकज व सोनी दो साल से एक साथ गाते थे भक्ति गीत.
  • सोशल मीडिया में एक गीत नहीं डालने पर था विवाद.
  • शुक्रवार को घटनास्थल पर पुलिस को रोक ग्रामीण.

Samastipur News: समस्तीपुर ज़िले के खानपुर थाना क्षेत्र के खैरी पंचायत में शुक्रवार सुबह बिजली के टावर से लटकता युवक का शव मिलने से सनसनी फैल गई। परिजनों का आरोप है कि शादी से इनकार करने पर लड़की व उसके परिजनों ने पंकज की हत्या कर शव टांग दिया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। शव को पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया गया है। पंकज कानू बिशनपुर पंचायत के ललित महतो का पुत्र था।

खानपुर थाना क्षेत्र के कानू बिशनपुर पंचायत निवासी व भजन गायक पंकज कुमार की बिजली के टावर में लाश लटकी अवस्था में मिलने के बाद ग्रामीणों में भारी आक्रोश था। सभी उसकी हत्या करने के कथित आरोपी की गिरफ्तारी करने की मांग को लेकर हंगामा भी किया। उन्होंने पुलिस को लाश भी नहीं उठाने दिया और रोक लिया। बताया जाता है कि ग्रामीण इस कदर आक्रोशित थे कि पुलिस से भी भिड़ने के लिए तैयार थे। जिससे पुलिस ने संयम से काम लिया।

 

ग्रामीणों की माने तो पंकज व सोनी एक साथ भजन गाते थे। दोनों अपना गीत यूटॺूब पर भी अपलोड करते थे। वे भोले बाबा का गीत गाकार यूट्यूब पर डालते थे। बताया गया है कि एक गाना यूट्यूब पर नहीं डालने के कारण दोनों में विवाद हुआ था। ग्रामीणों व पंकज के परिजन की माने तो दो साल से एक साथ भजन गाने के कारण सोनी उससे प्यार करने लगी थी, लेकिन पंकज उससे प्यार नहीं करता था। इस मामले में सोनी के घर वालों ने भी पंकज को संभल जाने की चेतावनी दी थी। जिससे पंकज इन दिनों उससे अलग रहने लगा था। गीत गाने के पूर्व पंकज पेंटिंग का काम करता था। उसके पिता भी पेंटर हैं। इधर, पुलिस सूत्रों ने बताया कि पुलिस हिरासत में पूछताछ के दौरान सोनी ने पंकज से प्रेम प्रसंग की बातें स्वीकार की है।

 

जनप्रतिनिधियों की पहल पर शांत: Samastipur News

ग्रामीणों के आक्रोश को देखते हुए पूर्व प्रखंड प्रमुख पवन देव प्रसाद सिंह, खैरी पंचायत की मुखिया मोनी कुमारी एवं पंचायत समिति सदस्य मिंटू राय, कानू बिशनपुर के पंचायत समिति सदस्य तनुजा देवी एवं पूर्व पंचायत समिति सदस्य डॉ अनिल कुमार, मुखिया अनीता देवी, पूर्व मुखिया राजगीर महतो, सामाजिक कार्यकर्ता सुशील कुमार, महेश्वर राम मामले को शांत करने में लगे हुए हैं।

Leave a Reply