समस्तीपुर की सड़कों पर लड़कियां खुलेआम कर रही थी वसूली का धंधा. Samastipur Girls Scam

Samastipur Girls Scam: समस्तीपुर में गुजरात की लड़कियां राहगीरों से रुपए वसूली का कारोबार चला रही थीं। गुरुवार को पुलिस ने 10 लड़कियों को हिरासत में लिया है। वे सभी से वसूली का रिकॉर्ड भी रखती थीं। पुलिस को ऐसे कई पेपर मिले हैं जिनमें 500 से 2000 रुपए तक की एंट्री की गई है। रुपए नहीं देने पर झूठे केस में फंसा देने की धमकी भी देती थीं।

मामला मुफस्सिल थाना क्षेत्र का है। पुलिस को सूचना मिली थी कि पूसा समस्तीपुर मुख्य पथ पर गरुआरा चौर में 10 लड़कियां वाहनों को रोककर वाहन चालक और सवारी से पैसा वसूल रही हैं। सूचना मिलते ही मुफस्सिल थानाध्यक्ष प्रवीण कुमार मिश्रा ने पुलिस फोर्स को भेजा। 10 लड़कियां वाहनों को रोककर पैसा वसूलने का काम कर रही थी। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए सभी लड़कियों को हिरासत में ले लिया। पूछताछ के दौरान लड़कियों ने बताया कि सभी गुजरात की रहने वाली है।

सभी लड़कियों से पूछताछ के बाद उनके आधार कार्ड की जांच की जा रही। ये सभी लड़कियां पहले नगर थाना इलाका वारिसनगर थाना इलाका सहित कई थाना क्षेत्र में घूम-घूम कर सुनसान जगह पर लोगों से पैसा वसूल करती थीं।

ऐसे निकलवाती थीं रुपए:

सभी लड़कियां शहरी इलाके में लोगों से पैसा नहीं मांगती हैं। सुनसान सड़कों का चुनाव करती थी। अकेली लड़की द्वारा रुकने का इशारा करने पर लोग गाड़ियां रोक देते थे। इसके बाद लड़की पैसे की डिमांड करती। अगर गाड़ी वाले ने पैसे देने से इनकार किया। तभी आसपास छुपी अन्य लड़कियां वहां पहुंच जाती और झूठे केस में फंसा देने की बात कह पैसे निकलवाती थी। ये अलग-अलग ग्रुप में अलग-अलग सड़कों पर पैसे कमाती हैं।

यह भी पढ़े :  Samastipur News : समस्तीपुर में पिता ने जमीन बेचने से रोका तो पुत्र ने किया घर में किया कैद, मोबाइल-गाड़ी भी जब्त.

दो-तीन दिनों से मिल रही थी शिकायत:

इधर, थानाध्यक्ष प्रवीण कुमार मिश्रा ने बताया कि दो-तीन दिनों से शिकायत मिल रही थी कि समस्तीपुर- पूसा पथ पर लड़कियां वाहन रोककर पैसे की मांग करती हैं। राहगीरों द्वारा पैसा नहीं देने पर झूठे केस में फंसा देने की धमकी देती हैं। इसके बाद पुलिस को भेज कर लड़कियों को हिरासत में लिया गया है। पुलिस पूरे मामले की जांच कर रही है।