समस्तीपुर के प्रोपर्टी डीलर रंजन वर्मा हत्याकांड, कयासों के आधार पर कई नाम सुर्खियों में … | Samastipur Crime News

समस्तीपुर शहर में बीते लंबे समय से प्रॉपर्टी डीलर की हत्या का सिलसिला बढ़ता ही जा रहा है। शहर के कई जाने-माने प्रॉपर्टी डीलर की हत्या पूर्व में हो चुकी है। इसी कड़ी में मंगलवार 9 नवंबर को शहर के मोहनपुर निवासी जमीन कारोबारी रंजन कुमार वर्मा की हत्या से पूरे जिले भर में सनसनी फैल है। Samastipur Crime News

 

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार रंजन वर्मा हत्याकांड के पीछे प्रोपर्टी डीलिग की बात सामने आ रही है। हालांकि, अबतक की जांच में पुलिस कोई ठोस निष्कर्ष पर नहीं पहुंची है। लेकिन, कयासों के आधार पर कई नाम सुर्खियों में है। पुलिस हत्या के पीछे कारणों को ढूंढने का प्रयास कर रही है। शक की सूई जमीन के एक बड़े ब्रोकर और भू माफियाओं पर है। Samastipur Crime News

 

पुलिस यह जानने का प्रयास कर रही है कि रंजन की हत्या से सबसे अधिक किसको फायदा होगा। सूत्रों की मानें तो प्रोपर्टी डीलर रंजन वर्मा को पूर्व से आशंका थी कि उसकी हत्या की साजिश रची जा रही है। उसने करीब छह माह पूर्व स्थानीय पुलिस व न्यायालय में स्वत: एक आवेदन देकर जान माल के सुरक्षा की गुहार भी लगाई थी। Samastipur Crime News

 

रंजन हत्याकांड में यह एक अहम कड़ी है, जो अपराधी व साजिशकर्ता तक पहुंचने में स्थानीय पुलिस की मदद करेगी। अब देखना है कि पुलिस हत्यारों का सुराग पाती है या नहीं। घटना में लोकल लाइनर की भी तलाश की जा रही है। क्योंकि जिस तरह अपराधियों ने घटना को अंजाम दिया है। उससे लगता है कि अपराधियों को पल-पल की खबर मिल रही थी। कार चालक भी संदेह के घेरे में है। हथियारबंद अपराधी जब उसकी कार पर फायरिग कर रहे थे तब तक कार चालक भी वहां मौजूद था। सूत्र यह भी बताते हैं रंजन ने अपने कई करीबियों के नाम भी जमीन ले रखा था और हत्या की आशंका से सहरसा में अपना ठिकाना बना लिया था। Samastipur Crime News

 

आपको बताते चले की समस्तीपुर के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के विशनपुर बांदे गांव में 9 नवंबर को जमीन कारोबारी रंजन कुमार की हत्या की गुत्थी सुलझाने में पुलिस अभी नाकाम है। दो दिन बाद भी हत्यारों का कोई सुराग नहीं मिला है। अबतक हत्या की प्राथमिकी भी दर्ज नहीं कराई गई है। मंगलवार की देर शाम जिस वक्त यह घटना हुई, मोहनपुर निवासी रंजन वर्मा अपने कार चालक ब्रजेश कुमार के साथ विशनपुर बांदे गांव में किसी परिचित से मिलकर घर लौट रहे थे। इस क्रम में विशनपुर गांव के आसपास ही उजले रंग की एक कार ओवरटेक करते हुए उनके कार के सामने आ आकर रुकी। Samastipur Crime News

 

वह कुछ समझ पाते, उजले रंग की कार पर सवार तीन की संख्या में बदमाशों ने उनकी कार पर अंधाधुंध फायरिग शुरु कर दिया। रंजन और चालक ब्रजेश कुमार कार से उतरकर भागने लगे। बदमाशों ने पीछा कर रंजन को गोलियों से भून डाला। वहीं कार चालक ब्रजेश कुमार किसी तरह जान बचाकर भाग निकला। घटनास्थल पर ही रंजन की मौत हो गई। घटनास्थल से पुलिस को थ्री नाट थ्री और पिस्टल का दो खोखा बरामद किया है। पुलिस सूत्र इस बात का पता लगाने की कोशिश में हैं कि रंजन के आने-जाने के बारे में हत्यारे को कैसे जानकारी मिली। वैसे अभी तक की जांच में यह बात भी सामने आई है कि कहीं न कहीं रंजन की हत्या में किसी नजदीकी ने ही लाइनर की भूमिका निभाई है। Samastipur Crime News