11 या 12 अगस्‍त, कब समस्तीपुर में मनाई जाएगी रक्षाबंधन ? Raksha Bandhan 2022

Raksha Bandhan 2022: मिथिला पंचांग के अनुसार पूर्णिमा का उदय दिन का ही अस्त माने जाने से 12 अगस्त को ही पूर्णिमा मानी जाएगी भाई-बहन के बीच आपसी स्नेह व सुरक्षा की भावना का प्रतीक पर्व रक्षाबंधन को लेकर इस वर्ष तिथि को लेकर कई मत सामने आ रहे हैं।

कई लोग 11 अगस्त को पूर्णिमा शुरू होने के कारण इसे उसी दिन मनाने की बात कह रहे हैं। जबकि कुछ इसे 12 अगस्त को मनाने की बात कह रहे हैं। इसको लेकर विशेषज्ञों ने बताया कि मिथिला पंचांग के अनुसार पूर्णिमा का उदय 12 अगस्त को होने के कारण रक्षाबंधन का त्योहार आगामी शुक्रवार को ही मनाया जाएगा। इस दिन पूर्णिमा में सूर्य उदय हाेने के कारण पूरे दिन त्योहार का योग बना रहेगा।

जबकि 11 अगस्त को सूर्य का उदय चतुर्दशी में हो रहा है। जबकि उस दिन पूर्णिमा का प्रवेश सूर्य उदय के करीब तीन घंटे बाद सुबह 9:47 में होगा। मिथिला में उदय दिन का ही अस्त माने जाने से 12 अगस्त को ही पूर्णिमा मानी जाएगी। मिथिला क्षेत्रों में इसी दिन भाई-बहन के बीच रक्षाबंधन के साथ ही कुलदेवता आदि को राखी का धागा अर्पित किया जाएगा।

रक्षाबंधन को लेकर बाजार की स्थाई व अधिकतर अस्थाई दुकानों पर रंग-बिरंगी राखियां बिक रही हैं। इसमें गुदरी बाजार स्टेशन रोड, मगरदही रोड, रामबाबू चौक, मारवाड़ी बाजार व गोला रोड आदि प्रमुख बाजारों में राखी की दर्जनों दुकानें सजाई गई हैं। यहां खासकर बच्चों के लिए कई कार्टून चरित्र की राखियां ध्यान खींच रही हैं। वहीं लोगों की घरों में बहनों की राखियां पहुंचने लगी हैं। बहनों ने भी बाहर रहने वाले भाईयों को इसे पोस्ट कर दिया है।

Leave a Reply