Protest against Agneepath in Samastipur: समस्तीपुर में अग्निपथ के विरोध में कोचिंगों पर भी हो सकती है कार्रवाई.

Protest against Agneepath in Samastipur: समस्तीपुर में अग्निपथ के विरोध में हुए बवाल व आगजनी मामले में उन कोचिंग संस्थानों पर कार्रवाई की जाएगी जिसकी हंगामा व बवाल मामले में संलिप्तता मिलेगी। जिला प्रशासन के आदेश पर हंगामा व बवाल मामले के सभी वीडियो फुटेज की जांच शुरू कर दी गयी है। वीडियो फुटेज के आधार पर उपद्रवियों के विरुद्ध कार्रवाई भी की जाने लगी है।

इस संबंध में डीपीआरओ ऋषभ राज ने बताया कि अग्निपथ के विरोध में किए गए हंगामा, तोड़फोड़ की घटनाओं से जुड़े मामले में अब तक 6 प्राथमिकी दर्ज की गयी है। जिसमें अबतक 03 की गिरफ्तारी की गयी है। उन्होंने बताया कि इसी क्रम में जिला प्रशासन लगातार कार्रवाई कर रहा है। सर्वप्रथम सूचना के अनुसार कोचिंग संस्थानों एवं लॉज की भी जांच हो रही है। घटनास्थल एवं वीडियो फुटेज से लोगों को चिह्नित कर कार्रवाई की जा रही है।

साथ ही कोचिंग संस्थानों की संलिप्ता पाए जाने पर उसके विरुद्ध भी कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने ने बताया कि इस क्रम में कुछ लोगों की निरोधात्मक गिरफ्तारी की गई है। जिले में धारा 144 लागू किया गया है। शांति व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए जिले में बस पड़ाव, चौक, स्टेशन, हाट, बाजार, सरकारी कार्यालय परिसरों समेत 45 जगहों पर दंडाधिकारी एवं पुलिस पदाधिकारियों को प्रतिनियुक्ति की गयी है।

उपद्रव फैलाने वालों से सख्ती से निपटें: Protest against Agneepath in Samastipur

डीएम योगेद्र सिंह व एपी हृदयकांत ने रविवार को सभी पुलिस व प्रशासनिक अधिकारियों को जिले में विधि व्यवस्था को नियंत्रित करने का निर्देश दिया। अग्निपथ को लेकर चल रहे आंदोलन को लेकर उन्होंने विशेष रूप से सजग रहने व उपद्रव करने वालों से सख्ती से निपटने का आदेश दिया। उन्होंने कहा कि इसमें किसी तरह की लापरवाही बर्दास्त नहीं की जाएगी। डीएम व एसपी रविवार को वीडियो कांफ्रेसिंग के माध्यम से सभी प्रशासनिक व पुलिस अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे। इसमें सभी एसडीओ, डीएसपी के अलावा बीडीओ, सीओ आदि अधिकारी शामिल थे। इधर, वारिसनगर में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में बीडीओ रंजीत कुमार वर्मा, थानाध्यक्ष संतोष कुमार, मथुरापुर ओपी अध्यक्ष गुलनाज कौशर शामिल थीं।

Leave a Reply