समस्तीपुर में दूसरे को फंसाने को कर दी पिता की हत्या. Crime in Samastipur

Crime in Samastipur: समस्तीपुर में एक बेटे ने दूसरे को हत्या मामले में फंसाने के लिए अपने ही पिता की हत्या कर चौर में लाश फेंक दी। मृतक की सिलौत के पोखरैरा के रामनरायण झा के पुत्र धनंजय झा के रूप में पहचान हुई।

 

शनिवार रात मुफस्सिल थाना के मुजौना चौर से लाश बरामद की गयी थी। मामले में मृतक की पत्नी सुनीता देवी ने रविवार शाम प्राथमिकी दर्ज करायी है, जिसमें अपने बड़े पुत्र प्रवीण झा पर हत्या करने का आरोप लगाया है। आवेदन में कहा गया है कि बड़े पुत्र ने दूसरे व्यक्ति को हत्या में फंसाने के लिए इस घटना को अंजाम दिया है। 24 घंटे बाद भी परिजनों ने प्राथमिकी दर्ज नहीं कराई है।

ग्रामीणों का भी कहना था कि पुत्र ने ही पिता की हत्या की है। इधर, इस मामले को सुलझाने के लिए रविवार को मुफस्सिल थाने की पुलिस दिनभर दौड़ती ही रही। पुलिस अधिकारी का मृतक के गांव से लेकर अपने वरीय अधिकारियों के पास शाम तक आने जाने का सिलसिला बना हुआ था। पुलिस ने हत्या मामले में नाम सामने आने पर मृतक के बड़े पुत्र प्रवीण झा को भी थाना में पहले से ही बैठा रखा था।

बता दें कि शनिवार देर रात ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने मुजौना चौर से अधेड़ का शव बरामद किया था। रात में ही मुफस्सिल थानाध्यक्ष विक्रम आचार्य ने घटनास्थल का जायजा भी लिया था। मृतक के छोटे पुत्र पिंकु कुमार झा ने बताया कि वह पिता के साथ लुधियाना में मजदूरी करता था। वहां से पिता के साथ 16 मई को घर आया था। शनिवार को लुघियाना जाने के लिए ट्रेन का टिकट लेने स्टेशन गया था। वहां से शाम को घर आया तो परिवार के लोगों ने बताया कि पिता साइकिल से कहीं निकले हैं। रात में ग्रामीणों ने चौर में पिता की लाश होने की जानकारी दी।

मृतक के मुंह पर जख्म के निशान मिले थे। थानाध्यक्ष विक्रम आचार्य ने बताया कि मृतक के बड़े पुत्र को पूछताछ के लिए थाना में रखा गया था। मामले में नामजद प्राथमिकी दर्ज होने के बाद उसे गिरफ्तार कर लिया गया।

Leave a Reply