गरीब रथ एक्सप्रेस में शराब के साथ जितवारपुर का तीन युवक गिरफ्तार. Arrested with Wine

Arrested with Wine: समस्तीपुर रेलवे सुरक्षा बल ने गरीब रथ एक्सप्रेस से कूद कर भाग रहे तीन युवक को 41 बोतल अंग्रेजी शराब के साथ गिरफ्तार कर लिया। बरामद शराब की अनुमानित मूल्य लगभग 45 हजार रुपये बताई गई है। आरपीएफ ने मामले की कार्रवाई को लेकर आरोपी को शराब के साथ उत्पाद विभाग को सौंप दिया। जानकारी के अनुसार मंडल सुरक्षा आयुक्त के निर्देश पर आरपीएफ इंस्पेक्टर वेद प्रकाश वर्मा ने अवैध वेंडरों एवं प्रतिबंधित सामानों की तस्करी के रोकथाम को लेकर टास्क टीम को तैनात किया है।

आरपीएफ टास्क टीम रविवार को अमृतसर से सहरसा के लिए परिचालित होने वाली ट्रेन संख्या 12204 गरीब रथ एक्सप्रेस में मुजफ्फरपुर से समस्तीपुर के बीच चौकसी बरत रहे थे। टीम ने तीन युवक की संदिग्ध गतिविधि देखते हुए आरपीएफ इंस्पेक्टर को तत्काल पूरे मामले की जानकारी दी। आरपीएफ इंस्पेक्टर उत्पाद विभाग को मामले की जानकारी देते हुए सब इंस्पेक्टर निशा कुमारी के साथ रेल पुल के समीप पहुंचे। इस क्रम में ट्रेन जंक्शन पर प्रवेश कर रही थी। ट्रेन की गति धीमी होते ही तीनों युवक बैग लेकर चलती ट्रेन की बोगी से कूद कर तेजी से भागने का प्रयास करने लगे।

 

 

टास्क टीम ने तत्परता दिखाते हुए पुल से पहले दरभंगा जाने वाली लाइन पर तीनों युवक को दबोच लिया। इस क्रम में मध निषेध इंस्पेक्टर सुभाष कुमार भी दल बल के साथ पहुंच गए। इसके बाद सभी को गिरफ्तार कर आरपीएफ पोस्ट पर लाया गया। टीम में सब इंस्पेक्टर निरंजन कुमार सिन्हा, अनिरुद्ध कुमार सिंह, राजेश कुमार सिंह, पिंटू कुमार, हर्ष कुमार सिंह व दीपक कुमार शामिल रहे। आरपीएफ इंस्पेक्टर ने तीनों युवक के विरुद्ध प्रतिबंधित सामान बरामदगी को लेकर बिहार मध निषेध अधिनियम 2016 संशोधित अधिनियम 2018 में कानूनी कार्रवाई के लिए उत्पाद विभाग को सौंप दिया। उत्पाद विभाग ने भी अभियुक्तों को न्यायालय में पेशी के उपरांत जेल भेज दिया।

यह भी पढ़े :  समस्‍तीपुर जिला परिषद अध्यक्ष पद पर खुशबू कुमारी ने जमाया कब्ज़ा, खुशबू को मिले 42 तो प्रेमलता को 6 वोट. | Samastipur News

प्रति ट्रिप तीन-तीन हजार रुपये लेकर पहुंचाता था शराब: Arrested with Wine

पूछताछ के क्रम में तीनों की पहचान मुफस्सिल थाना क्षेत्र के जितवारपुर निवासी संजीव कुमार, सनी कुमार एवं राजन कुमार के रूप में हुई। तलाशी के क्रम में तीनों के पास से बरामद पांच बैग से अंग्रेजी शराब की 41 बोतल बरामद हुई। पूछताछ के क्रम तीनों अभियुक्तों ने बताया कि जितवारपुर के ही फुलकेश्वर राम का पुत्र छोटू द्वारा गाजियाबाद के समीप हापुर में शराब दिलवाया था। प्रति ट्रिप शराब पहुंचाने के लिए तीन-तीन हजार रुपये दिया जाता है।