समस्तीपुर में सिर्फ वोट लेने जरिया बना रोसड़ा को जिले का दर्जा की बात. | Rosera News

समस्तीपुर ज़िले के रोसड़ा अनुमंडल को जिला का दर्जा नहीं देने पर एवं वाल्मिकी नगर को जिला बनाये जाने की सुगबुगाहट के बाद से रोसड़ा के युवाओं और बुद्धिजीवियों में रोष दिख रहा है।

इसी बात को लेकर रोसड़ा के महावीर चौक पर रोसड़ा के युवाओं ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का पुतला लेकर प्रदर्शन करते हुए उसका दहन किया। कार्यक्रम का नेतृत्व युवा नेता मिश्रा विश्व बारूद ने किया। इस दौरान स्थानीय विधायक और बिहार सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। सभा को संबोधित करते हुए मिश्रा विश्व बारूद ने कहा कि मीडिया के खबरों के अनुसार 21 तारीख को बिहार सरकार की कैबिनेट की बैठक होने वाली है जिसमें वाल्मिकी नगर को जिला बनाने की बात प्रस्तावित है किन्तु रोसड़ा की चर्चा नहीं हो रही है।

हर चुनाव के पूर्व तमाम राजनीतिक दल के नेताओं ने रोसड़ा को जिला का दर्जा दिलाने की बात कहते आ रहे हैं। मुख्यमंत्री ने भी खुद कहा था कि जब भी बिहार में किसी नये जिले का गठन किया जाएगा तो सबसे पहला नाम रोसड़ा का ही होगा। जनप्रतिनिधियों के उदासीन रवैया की वजह से रोसड़ा की यह वर्षों पुरानी मांग आज तक पूर्ण नहीं हो पाया है।

सेवा यात्रा में नीतीश कुमार जी रोसड़ा आए थे और कहे थे बिहार में जब भी कोई जिला बनेगा तो उसमें रोसड़ा का नाम अग्रणी रहेगा लेकिन आज रोसड़ा के पीठ पर खंजर भाेंकने का काम वर्तमान बिहार सरकार के द्वारा किया गया है। रोसड़ा की जनता खुद को ठगा हुआ महसूस कर रही है जो अब बर्दाश्त से बाहर है अगर रोसड़ा को जिला का दर्जा नहीं दिया जाता है तो चरणबद्ध उग्र आंदोलन किया जाएगा।

Leave a Reply