समस्तीपुर के पूसा में हरियाली सेवा केंद्र के माध्यम से जीरो टिलेज मशीन से हो रही हैं फार्मिंग. | Pusa News

समस्तीपुर ज़िले के पूसा प्रखंड क्षेत्र के पुनास, बाजितपुर, चंदौली, मोरसंड गांव में हरियाली सेवा केंद्र के माध्यम से हिमांशु रंजन और सपन कुमार के द्वारा जीरो टिलेज मशीन से हरेंद्र किशोर सिंह, राकेश कुमार सिंह, प्रभात कुमार आदि 30 किसानों के खेत में 116 एकड़ में बुआई किया गया।

 

जिसमे किसानों को हिमांशु रंजन ने बताया की मशीन से बुआई करने पर मिलने वाले लाभ प्राप्त कैसे होगा। कम लागत में अधिक उत्पादन कैसे किसानों को मिले एवं इस विधि से गेहूं की बुआई करने से समय की बचत होती है। फसल में चूहा नहीं लगता है। मिट्टी की गुणवत्ता भी हमेशा सुरक्षित रहती है।

 

कल्लो को संख्या ज्यादा निकलती है। जीरो टिलेज का मतलब बिना जुताई किए कम से कम लागत में फसलों को खेती करना। क्योंकि किसान गेहूं की बुआई करने के लिए खेतो को 6 से 8 चास तक जुताई करते हैं। मौके पर शैलेश कुमार, रौशन कुमार, किशुन कुमार, मदन सिंह आदि मौजूद थे।