समस्तीपुर में ससुराल आए निजी विद्यालय के संचालक की हत्या, इलाक़े में सनसनी. Crime In Samastipur

Crime In Samastipur : समस्तीपुर ज़िले के वैनी ओपी के महमदपुर कोवारी गांव में मंगलवार की रात ससुराल आए एक निजी विद्यालय के संचालन की पीटकर हत्या कर दी गई। मृतक की पहचान मुजफ्फरपुर जिला के पियर थाना के रतवारा वार्ड 11 निवासी लक्ष्मीनारायण सिंह के पुत्र 33 वर्षीय तारकेश्वर प्रसाद के रूप में हुई है। देर रात सूचना पर पहुंची स्थानीय पुलिस ने घटनास्थल का जायजा लिया। शव कब्जे में लेकर अंत्यपरीक्षण के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। मृतक के चेहरे पर खून के धब्बे और जख्म के निशान मिले हैं। घटना के बाद मृतक की पत्नी और ससुराल के सदस्य घर छोड़कर फरार हैं। पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है। स्वजनों ने ससुराल के सदस्यों पर मारपीट और जहर की सूई देकर हत्या का आरोप लगाया है।

मुझे यहां सब मार देगा, प्लीज आओ, फोन से बात करो मुजफ्फरपुर के रतवारा गांव निवासी तारकेश्वर प्रसाद गांव में ही एक निजी विद्यालय के संचालक थे। मृतक के पिता लक्ष्मी नारायण सिंह ने बताया कि मंगलवार शाम करीब चार बजे तारकेश्वर घर से बाइक लेकर वैनी ओपी क्षेत्र के महदमपुर कोआरी स्थित ससुराल की ओर निकले। जहां पत्नी और चार साल की बच्ची को मायके से विदा कराकर घर लाने की योजना थी। ससुराल में शाम 7 बजकर 2 मिनट में तारकेश्वर ने अपने बड़े भाई को मोबाइल पर मैसेज किया कि मुझे यहां सब मार देगा, प्लीज आओ, फोन से बात करो। स्वजनों को खतरे की आशंका हुई। आनन- फानन में तारकेश्वर के पिता लक्ष्मी नारायण सिंह अपने रिश्तेदारों के साथ तारकेश्वर के ससुराल पहुंचे। जहां लोगों ने बताया कि तारकेश्वर की तबीयत खराब है, उसे किसी निजी क्लिनिक में भर्ती कराया गया है। निजी क्लीनिक का पता पूछने पर ससुराल के सदस्य गाली- गलौज और नोंक झोंक करने लगे और उनकी बाइक की चाबी भी छिन ली। तत्काल वैनी ओपी थाना में जाकर स्थानीय पुलिस को घटना की सूचना दी। देर रात जब पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो दरवाजे पर रखी खाट पर तारकेश्वर का लहूलुहान शव पड़ा था। चेहरे पर खून और जख्म के निशान मिले। पुलिस ने घटनास्थल का जायजा लिया और शव कब्जे में लेकर अंत्यपरीक्षण के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। ससुराल के सदस्यों द्वारा मारपीट व जहर की सुई देकर हत्या की आशंका व्यक्त की है।

 

पत्नी से चल रहा था दहेज प्रताड़ना का मामला:

वर्ष 2014 में मुजफ्फरपुर के रतवारा निवासी तारकेश्वर और वैनी के महमदपुर कोआरी निवासी लड्डू लाल सिंह के पुत्री रिकी कुमारी की हिदू रीति रिवाज के अनुसार शादी हुई। दोनों परिवार और वर-वधु की सहमति से यह विवाह संपन्न हुआ था। तारकेश्वर के पिता ने बताया कि शादी के बाद कुछ दिनों तक सब कुछ ठीक ठाक चल रहा था। दो वर्ष पूर्व अचानक रिकी कुमारी ने पति तारकेश्वर के विरुद्ध न्यायालय में दहेज प्रताड़ना का मुकदमा दायर कर दिया। दो वर्ष की बच्ची के साथ वह अपने मायके आकर रहने लगी। बीते 31 मार्च को पति-पत्नी के बीच आपसी सामंजस्य के बाद न्यायालय का फैसला आया। रिकी अपने पति तारकेश्वर के साथ ससुराल आने को राजी हो गई। मंगलवार शाम तारकेश्वर पत्नी और बच्ची के कपड़े और सामान खरीदकर ससुराल पहुंचा। जहां ससुराल के सदस्यों ने तारकेश्वर की पिटाई की और जहर की सुई देकर उसकी हत्या कर दी।

पिता ने दर्ज कराई हत्या की शिकायत:

घटना के संबंध में मुजफ्फरपुर जिला के पियर थाना के रतवारा निवासी मृतक तारकेश्वर के पिता लक्ष्मी नारायण सिंह ने वैनी ओपी थाना में एक आवेदन देकर शिकायत दर्ज कराई है। इसमें तारकेश्वर के ससूर वैनी ओपी क्षेत्र के महदमपुर कोआरी निवासी लड्डू लाल सिंह, साला संजीव कुमार सिंह, सास समेत अन्य को आरोपित किया है। थानाध्यक्ष विकास कुमार आलोक ने बताया कि मामले की छानबीन जारी है। आवेदन के आलोक में प्राथमिकी दर्ज कर अग्रेतर कार्रवाई की जाएगी।

Leave a Reply