समस्तीपुर में जांच करने गई पुलिस टीम पर हमला कर बनाया बंधक. Samastipur Police

 Samastipur Police: समस्तीपुर जिले के मोहिउद्दीननगर के शेखटोली वार्ड 4 में पुलिस एक आवेदन का जांच करने गई तो, गांव के कुछ कतिपय लोगों ने पुलिस दल पर हमला करते हुए बंधक बना लिया। बंधक बनाए जाने की सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष व अन्य पुलिस बल मौके पर पहुंचे और बंधक बने जवानों को मुक्त कराया। इस मामले में एएसआई राहत हुसैन खां ने थाने में आवेदन देकर 7 नामजद व 10-15 अज्ञात लोगों को आरोपित करते हुए प्राथमिकी दर्ज कराई है।

 

दर्ज एफआईआर में एएसआई राहत हुसैन खां ने कहा है कि नाजिमा खातून द्वारा दी गई आवेदन की जांच करने पुलिस बल के साथ शेख टोली गए थे। सभी पुलिस बल के साथ दरवाजे पर ही आरोपित सद्दाम कुरैसी व मकसूद कुरैसी से पूछताछ करते हुए थाना चलने की बात कह रहे थे। इसी बीच सद्दाम कुरैसी, मकसूद कुरैसी, आजाद कुरैसी, हसनैन कुरैसी, महफूज कुरैसी, गुल्लू कुरैसी, आरिफ कुरैसी व 10-15 अज्ञात लोग गाली गलौज करने लगे।

 

फिर बदतमीजी से राइफल छिनने व बर्दी फाड़ने का कोशिश करते हुए मुझे और मेरे साथ गए जवान नकुल कुमार, ऋषि प्रभाकर, अरुण कुमार चौधरी, रामप्रवेश साह व नरेश कुमार सहित हम सभी को खींचकर आंगन में ले गया। और बाहर से गेट को बंद कर हम सभी को बंधक बना लिया। इस बीच पुलिस जीप के चालक द्वारा थानाध्यक्ष को सूचना दी गई। थानाध्यक्ष अन्यपुलिस बल के साथ शेखटोली पहुंच हम सभी को मुक्त कराए। दूसरी ओर आरोपितों का बताना है कि बिना सूचना की पुलिस दरवाजे पर आ गई थी। लगाया गया आरोप सच्चाई से अलग है। थानाध्यक्ष राजन कुमार ने बताया कि एएसआई द्वारा दिये गए आवेदन के आलोक में एफआईआर दर्ज कर अनुसंधान शुरू कर दी गई है।

Leave a Reply