Samastipur Crime : समस्तीपुर में हथियार की खरीद-बिक्री के वायरल वीडियो मामले आरोपियों की पहचान, 3 लोगों पर एफआईआर दर्ज़ .

Sale and purchase of arms in Samastipur : वायरल वीडियो गंगा दियारा क्षेत्र का बताया गया है. जहां रात के अंधेरे में राइफल खरीदने आया शख्स को एक अधेड़ व्यक्ति दो राइफल दिखा रहा है. एक राइफल का मूल ढाई लाख तथा दूसरे राइफल का मूल्य एक लाख 10 हजार बता रहा है.

Samastipur Crime News : समस्तीपुर जिले के मोहिउद्दीन नगर थाना क्षेत्र के गंगा दियारा का इलाका बेरी गांव में हथियारों की खरीद बिक्री का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। इस मामले में वायरल वीडियो के आधार पर गांव के 3 लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की गई है। तीनों युवक अलग-अलग राइफल लिए हुए और राइफल का मूल्य बताते हुए दिख रहे हैं।

बताया गया है कि मोहिउद्दीन नगर थाने के थाना अध्यक्ष उमेश कुमार पासवान के सरकारी मोबाइल पर एक व्यक्ति द्वारा हाथ में राइफल लिए हुए व कमर में देसी कट्टा लटकाए हुए युवक का फोटो तथा राइफल बेचे जाने को लेकर खरीद बिक्री का वीडियो भेजा था। इस वीडियो की सत्यता के बाद सोमवार को इस मामले में थाना अध्यक्ष के बयान पर 3 लोगों पर प्राथमिकी दर्ज की गई है।

वायरल वीडियो गंगा दियारा क्षेत्र का बताया गया है। जहां रात के अंधेरे में राइफल खरीदने आया शख्स को एक अधेड़ व्यक्ति दो राइफल दिखा रहा है। एक राइफल का मूल ढाई लाख तथा दूसरे राइफल का मूल्य एक लाख 10 हजार बता रहा है ।इस दौरान खरीद बिक्री करने वाला व्यक्ति द्वारा वीडियो भी बनाया गया है। माना जा रहा है कि उक्त व्यक्ति ने ही इस वीडियो को वायरल किया है।

यह भी पढ़े :  समस्तीपुर : अल्टीमेटम मिला था 24 घंटे का, 48 घंटे बाद भी नहीं हटाया अतिक्रमण. samastipur news encroachment not removed after 48 hours

उधर समस्तीपुर जिले के नए एसपी विनय तिवारी ने बताया कि वायरल वीडियो के आधार पर थाना अध्यक्ष के नेतृत्व में पुलिस की टीम ने मामले की जांच की। जांच के दौरान मोहिउद्दीन नगर थाना क्षेत्र के बेरी गांव के सूरज कुमार सरवन कुमार और विजय कुमार नामक युवक की राइफल के साथ फोटो की पहचान की गई।

स्थानीय चौकीदार से इसकी सत्यता की जांच कराई गई जिसके बाद इस मामले में प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। राइफल के साथ दिख रहे युवकों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम ने छापेमारी शुरू कर दी है। उधर इस घटना के बाद इस बात की पुष्टि हुई है कि समस्तीपुर जिले के गंगा दियारा में हथियारों के कारोबार का बड़ा रैकेट चल रहा है।