समस्‍तीपुर में डबल मर्डर, दोहरे हत्याकांड से दहला क्षेत्र. Crime in Samastipur

Crime in Samastipur: समस्तीपुर ज़िले के हसनपुर थाना क्षेत्र के परिदह गांव में गुरुवार को वर्चस्व की लड़ाई को लेकर दो पक्षों के बीच हुई हिंसक झड़प में पहले (42) वर्षीय युवक जीतन यादव की मौत घटनास्थल पर ही हो गई। इसके बाद ईख के खेत में छिपे आरोपित कारी यादव (45) को भी दूसरे पक्ष के लोगों ने पीट-पीटकर मार डाला।

पुलिस ने दोनों शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। घटना के बाद गांव में तनाव है। पुलिस कैंप कर रही है। अभी तक किसी भी पक्ष की ओर से प्राथमिकी दर्ज नहीं करायी गई है। गुरुवार करीब 12.30 बजे दिन में स्व. उरो यादव के पुत्र जीतन यादव बाइक से गांव में घूम रहे थे। अचानक गांव के ही बुच्ची यादव, अमरजीत यादव, कारी यादव आदि ने लाठी डंडे से हमला कर दिया। इसमें जीतन यादव गंभीर रूप से जख्मी हो गए।

स्थानीय लोगों ने जख्मी को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र हसनपुर में भर्ती कराया, लेकिन चिकित्सक ने मृत घोषित कर दिया। इस घटना के बाद फरार कारी यादव को बगल के एक गन्ने की खेत में छिपे रहने की जानकारी पर मृतक के स्वजनों ने उक्त गन्ने की खेत में खोजबीन शुरू की तो आरोपित कारी पकड़ में आ गया। इसके बाद सभी उसपर टूट पड़े। लाठी डंडे से उसपर भी प्रहार किया। मृतक के स्वजनों ने कारी की इतनी पिटाई कर दी कि वह बुरी तरह जख्मी हो गए।

 

पुलिस को सूचना देकर उसे हवाले भी कर दिया। पुलिस ने उसे सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया, लेकिन गंभीर स्थिति देख प्राथमिक उपचार के बाद सदर अस्पताल समस्तीपुर रेफर कर दिया। समस्तीपुर ले जाने के क्रम में रास्ते में ही कारी ने दम तोड़ दिया। दोहरे हत्याकांड की जानकारी मिलते ही डीएसपी सहियार अख्तर घटनास्थल पर पहुंचकर पुलिस बल के साथ कैप कर रहे हैं। फिलहाल परिदह गांव में स्थिति तनावपूर्ण है। डीएसपी ने उसे नियंत्रित बताया है।

 

परिदह गांव के लोगों का कहना है कि मृतक और कारी यादव के बीच वर्षों से वर्चस्व को लेकर विवाद चलता आ रहा था। दो दिन पूर्व बेंगलुरु से हार्ट का इलाज कराकर घर आए थे। बुधवार को मौका मिलने पर कारी यादव के समर्थकों ने घटना को अंजाम दे डाला। थानाध्यक्ष निशा भारती ने बताया कि शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। फिलहाल मृतक के स्वजनों के द्वारा नामों का खुलासा किए जाने के बाद हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है।

Leave a Reply