Acid Attack : चुनावी रंजिश में बदमाशों ने किया एसिड से हमला, चार लोग बुरी तरह झुलसे.

समस्तीपुर 22 नवंबर’ 20 | अफरोज आलम

समस्तीपुर। सरायरंजन थाना क्षेत्र के रायपुर बुजुर्ग स्थित वार्ड-13 में शुक्रवार की शाम तेजाब हमले में चार लोग घायल हो गए। घायलों में एक की स्थिति गंभीर बताई गई है। घटना का कारण चुनावी रंजिश बताया गया है। इस बाबत सुमित कुमार गिरि के बयान पर स्थानीय थाने में एक प्राथमिकी दर्ज कराई गई है, जिसमें गांव के ही सुशील पुरी, हरेराम गिरि एवं मुकेश गिरि समेत पांच लोगों को आरोपित किया गया है।

 

दर्ज प्राथमिकी में कहा गया है कि शुक्रवार की शाम वे ग्रामीण नितेश कुमार गिरि के साथ पूजा का सामान खरीदने रायपुर चौक जा रहे थे। इसी बीच रास्ते में आरोपितों ने पिस्तौल के बल पर दोनों को गांव के प्राथमिक विद्यालय की ओर ले जाने लगा। उन लोगों के चिल्लाने पर वहां कई ग्रामीण जुट गए। इस बीच आरोपितों ने तेजाब से हमला कर दिया। जिसमें श्याम कुमार गिरि के पुत्र प्रिस गिरि (23), अरविद गिरि के पुत्र प्रवीण गिरि (26) एवं अनिल पुरी के पुत्र रजनीश पुरी (30) झुलस गए। वहीं हमलावरों ने घटन स्थल पर जुटे लोगों पर लोहे के रॉड से प्रहार करना शुरू कर दिया, जिसमें अरविद गिरि का पुत्र सचिन कुमार गिरि (22) गंभीर रुप से घायल हो गया। सभी घायलों का इलाज पीएचसी में कराया गया है। जबकि गंभीर रुप से जख्मी एक युवक को डीएमसीएच रेफर किया गया है। पुलिस ने मामला दर्ज कर कार्रवाई शुरू कर दी है।

ग्रामीणों ने की मुखिया पति की पिटाई : कल्याणपुर थाना क्षेत्र की खरसंड पश्चिमी पंचायत के जुड़खाडीह वार्ड-14 गांव में वर्षों की भांति शनिवार की सुबह लोगों द्वारा छठ घाट पर पूजा की जा रही थी। इसी बीच व्रतियों एवं लोगों से मिलने के लिए मुखिया रेखा देवी के पति सुरेश राय छठ घाट पर पहुंचे। इसी बीच स्कूल के समीप ग्रामीणों ने एक झुंड ने उसके साथ मारपीट करना शुरू कर दिया। भाई की पिटाई किए जाने की सूचना पर पहुंचे मुखिया के जेठ राम नरेश राय को भी लोगों ने मारपीट किया। इस घटना की सूचना तुरंत पुलिस को दी गई।

थाना से पहुंचे थानाध्यक्ष ब्रज किशोर सिंह समेत अन्य पदाधिकारियों ने मुखिया पति और उसके भैंसुर को आक्रोशित लोगों से छुड़ाते हुए जान बचाई। दोनों का इलाज निजी क्लीनिक में कराया गया। पुलिस ने गांव के वार्ड सदस्य नरेश यादव सहित अवधेश शाह के दो पुत्रों रोशन कुमार और राहुल कुमार को हिरासत में लेते हुए थाना लाया। इस संबंध में मुखिया पति सुरेश राय से बात करने की कोशिश की गई परंतु बात नहीं हो सकी। उप मुखिया विनोद बैठा ने इस घटना के संबंध में कुछ भी बताने से इनकार किया। ग्रामीणों की मानें तो मामला नल जल सहित पुरानी रंजिश में घटी है। पुलिस का कहना है कि मुखिया पति द्वारा आवेदन नहीं दिए जाने के कारण शाम तक प्राथमिकी दर्ज नही की जा सकी थी।