मेवालाल के बाद मंगलपांडे का नंबर! विधानसभा में विधायक उठाएंगे किडनी चोरी का मामला.

राजधानी के कंकरबाग इलाका स्थित एक निजी अस्पताल में मरीज के पेट से किडनी निकालने का मामला अब तूल पकड़ने लगा है। मामला अब विधानसभा में उठाने की तैयारी चल रही है। भाकपा माले केंद्रीय कमेटी के सदस्य और फुलवारीशरीफ विधानसभा के विधायक गोपाल रविदास, माले राज्य कमेटी के सदस्य रणविजय कुमार, माले नेता जितेंद्र कुमार, नागेश्वर पासवान ने मरीज से मुलाकात की। मुलाकात के बाद अब दोनों सरकार के स्वास्थ्य मंत्री का इस्तीफा मांगने की तैयारी में जुट गए हैं। वे अब इस मामले को विधानसभा में उठा कर स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे का इस्तीफा की मांग करेंगे।

बता दें कि बेगूसराय से अपने पेट दर्द का इलाज कराने आए मो. मुजाहिद का अस्पताल में किडनी निकाल लिया गया। उसे पेट की दाहिने तरफ दर्द था, लेकिन ऑपरेशन बाय साइड करके किडनी निकाल लिया गया। इस घटना के बाद डॉक्टर पीके जैन ने अपनी गलती भी स्वीकारी और पीड़ित को 10 लाख रुपए देकर आगे इलाज कराने की बात भी कही। वहीं, इलाज के लिए मुजाहिद पटना के कई निजी अस्पताल में भर्ती हुए लेकिन यहां इलाज के बाद चिकित्सकों ने लखनऊ जा कर इलाज कराने की सलाह दी है।

मरीज का कहना है कि आरोपित डॉक्टर अब सहयोग नहीं कर रहे हैं, इलाज नहीं करा रहे हैं, डॉक्टर ने फोन बंद कर लिया है, इसलिए वह आइजीआइएमएस में भर्ती हो गए हैं। उनका इलाज चल रहा है. मरीज के परिजन आरोपित डॉक्टर के व्यवहार से काफी दुखी हैं और गुस्से में भी है। परिजनों का कहना है कि आरोपित डाॅक्टर के खिलाफ रविवार को कंकड़बाग थाने में मामला दर्ज कराया जाएगा।

विधायक गोपाल रविदास ने डॉक्टर जैन पर किडनी चोरी करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि हमलोगों के संज्ञान में चार ऐसे मामले आए हैं। चारों मरीज बीजीबी अस्पताल पर किडनी चोरी का आरोप लगा रहे हैं। लेकिन कंकड़बाग थाना मामला दर्ज नहीं कर रही है।

उन्होंने कहा कि यह बहुत ही गंभीर मामला है और हम इसके लिए विधानसभा में सवाल उठाएंगे। विधायक ने मांग किया है कि स्वास्थ्य मंत्री इस्तीफा दें। स्वास्थ्य का हाल ठीक नहीं हैं।