Bihar News : केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के काफिले पर पत्थरबाजी, बाल – बाल बचे.

Attack on Ashwini Choubey in Bihar : बक्सर के चौसा में थर्मल पावर प्लांट को लेकर किसान मुआवजे को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं. गुरुवार को केंद्रीय मंत्री पहुंचे थे जहां विरोध हुआ. घटना बक्सर के बनारपुर गांव की है. 

 

Bihar News : केंद्रीय मंत्री अश्वनी चौबे (Ashwini Choubey) के काफिले पर गुरुवार की शाम बक्सर में पत्थरबाजी हो गई. इस घटना में केंद्रीय मंत्री (Union Minister) बाल-बाल बचे. बक्सर पहुंचे सांसद को गांव के लोगों के आक्रोश का सामना करना पड़ा. घटना बक्सर के बनारपुर गांव की है. दरअसल पुलिस द्वारा महिलाओं और बच्चों पर लाठियां बरसाने, नाबालिग बच्चों के पकड़े जाने को लेकर लोग आक्रोशित थे. बक्सर के चौसा में थर्मल पावर प्लांट को लेकर किसान मुआवजे की मांग पर प्रदर्शन कर रहे हैं.

बता दें कि बक्सर में किसानों का विरोध-प्रदर्शन दूसरे दिन भी जारी है. चौसा में पावर प्रोजेक्ट में कल हुए विरोध प्रदर्शन के बाद गुरुवार को केंद्रीय मंत्री सह बक्सर के बीजेपी सासंद अश्विनी कुमार चौबे बनारपुर गांव पहुंचे थे. वो किसानों से मिलने के लिए आये थे. किसानों के सभा को संबोधित करते समय किसानों ने पूछा कि इतने दिनों तक आखिर अश्वनी चौबे ने इनके समस्याओं को सुनने और जानने के लिए क्यों नहीं पहुंचे, किसानों के इस सवाल के बाद जो किसानों का आक्रोश फूटा तो अश्विनी चौबे ने माइक छोड़ दी और अपनी जान बचाते हुए गाड़ी में बैठे और सुरक्षाकर्मियों ने उन्हें वहां से बाहर निकाला.

 

किसानों के सवालों पर घिरे केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे :

बक्सर जिला के चौसा में बुधवार को हुए किसानों का आक्रोश पूर्ण प्रदर्शन के बाद किसान चौसा के बनारपुर गांव में सभा कर रहे थे. उसी सभा में केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे किसानों को संबोधित करने के लिए पहुंचे. अश्विनी चौबे से किसानों ने कहा कि कल जो आक्रोश पूर्ण प्रदर्शन और पुलिस का बर्बरता पूर्ण कार्रवाई के बाद किसान काफी आक्रोशित हैं, किसानों ने अपनी बात एक-एक करके अश्विनी चौबे के सामने रखनी शुरू की. इस दौरान अश्विनी कुमार चौबे भड़क गए और माइक छोड़ कर के जा गाड़ी में बैठे हैं.

यह भी पढ़े :  समस्तीपुर आईसा ने पुसा विश्वविधालय में वयाप्त भ्रटाचार के खिलाफ उद्योग मंत्री को सौंपा ज्ञापन. Dr. Rajendra Prasad Central Agricultural University Pusa Samastipur

विरोध हुआ तो खुद वापस लौटे :

केंद्रीय मंत्री अश्विनी कुमार चौबे थर्मल पावर प्लांट पर आगजनी के बाद किसानों से बातचीत करने के लिए बनारपुर गांव पहुंचे थे. किसानों की भीड़ और उनके सवालों से घिरे अश्विनी कुमार चौबे ने वहां से निकल जाना मुनासिब समझा और सुरक्षाकर्मियों के घेरे से होते हुए जा करके अपनी गाड़ी में बैठ गए. साथ चल रहे सुरक्षाकर्मी और स्थानीय मुफस्सिल थाना पुलिस ने उन्हें कार्यक्रम स्थल से बाहर निकाला और मुख्य सड़क तक पहुंचाया. गुरुवार को किसानों के सभा में भाजपा के नेता सम्राट चौधरी भी पहुंचे हुए थे.